नौचंदी ने करायी यात्रियों को 5.30 घंटे की प्रतीक्षा...आधा दर्जनभर ट्रेनें हुई घंटों विलंबता से संचालित

नौचंदी ने करायी यात्रियों को 5.30 घंटे की प्रतीक्षा...आधा दर्जनभर ट्रेनें हुई घंटों विलंबता से संचालित

मुजफ्फरनगर। सोमवार को रेलवे विभाग का ट्रेनों का परिचालन एक प्रकार से पटरी से उतरा हुआ रहा। आधा दर्जनभर ट्रेनें अपने तय समय से एक नहीं, दो नहीं बल्कि घंटों की विलंबता से संचालित होती पायी गयीं। इसमें सबसे अधिक प्रतीक्षा कराने वाली ट्रेनों में लंबी दूरी की एक्सप्रेस गाड़ियां शामिल रहीं। जिसके चलते यात्रियों को स्टेशन पर ट्रेनों की घंटों प्रतीक्षा करने में अनेकों परेशानियों का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही कुछ पेसंेजर ट्रेनें भी अपने तय समय से विलंबता से संचालित हुईं। वहीं शाम के समय पौने छह बजे भारी भीड़ के चलते सरवट पफाटक बंद न होने के चलते सहारनपुर को जाने वाली एक ट्रेन को चालक ने रोेक दिया, पफाटक बंद होने के बाद ट्रेन चलायी गयी।
सोमवार का दिन ट्रेन यात्रियों के लिए सही नहीं रहा। उन्हें अपनी ट्रेनों की प्रतीक्षा घंटों करनी पड़ी। ट्रेनों की इस विलंबता की कड़ी में गाड़ी संख्या 14511 नौचंदी एक्सप्रेस अपने तय समय से साढे़ पंाच घंटे की विलंबता का सफर तय करते हुए मुजफ्फरनगर के रेलवे स्टेशन पर अपनी आमद करा पाने में कामयाब हो सकी। इसका मुजफ्फरनगर आने का सही समय है प्रातः 9.55 है। वहीं दूसरी ओर गाड़ी संख्या 14317 इंदौर एक्स. अपने तय समय से 3.20 घंटे की विलंबता का सपफर तय करते हुए जनपद के स्टेशन पर आयी। गाड़ी संख्या 14512 नौचंदी भी विलंबता से आने वाली ट्रेनों की सूची में शामिल रही। यह ट्रेन अपने तय समय से तीन घंटे दस मिनट की विलंबता से मुजफ्फरनगर के स्टेशन पर आयी। इसके अलावा गाड़ी संख्या 14522 अंबाला-दिल्ली (इंटरसिटी) एक्सप्रेस अपने तय समय से एक घंटा पांच मिनट की विलंबता का सफर तय करती पायी गयी। वहीं विलंबता मंे पैसेंजर गाड़ियां भी कहां पीछे रहतीं, वह भी विलंबता से चलीं। बस गनीमत यह रही कि यह ट्रेनें एक्सप्रेस ट्रेनों की भांति काफी विलंबता से संचालित नहीं र्हुइं। इसमें गाड़ी संख्या 54472 ऋषिकेश-दिल्ली पैसंेजर अपने तय समय से पचास मिनट की विलंबता से आयी। वहीं दूसरी ओर गाड़ी संख्या 54539 निजामुद्दीन-अंबाला पैसंेजर ट्रेन अपने तय समय से पचपन मिनट की विलंबता के साथ मुजफ्फरनगर के रेलवे स्टेशन पर अपनी आमद करा पाने में कामयाब हो सकी। एक्सप्रेस ट्रेनों के काफी विलंबता से संचालित होने को लेकर रेलवे के सूत्रों का कहना था कि कहीं बाहर ही कुछ हुआ होगा, जिसके कारण एक्सप्रेस ट्रेनें विलंबता से संचालित हुई, आसपास तो कुछ नहीं हुआ। इसके साथ ही गाड़ी संख्या 64561 दिल्ली-अंबाला पैसंेजर 1.20 घंटे, 64562 अंबाला-दिल्ली पैसंेजर 40 मिनट, 54541 पैसेजर 1 घंटे की विलंबता से संचालित हुईं।

Share it
Top