राज्य सरकार ने किसानों का 36 हजार करोड का फसली ऋण किया माफः राज वर्मा

मुजफ्फरनगर। पं. दीनदयाल उपाध्याय जयन्ती शताब्दी वर्ष के अवसर पर आज किसान कल्याण सम्मेलन हुआ, जिसमें मुख्य अतिथि भाजपा किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजा वर्मा रहे। कार्यक्रम का संचालन तेजपाल सिंह और सुनील तायल ने संयुक्त रूप से किया। कार्यक्रम को पश्चिमी उ.प्र. के संयोजक विकास पंवार ने सम्बोधित करते हुए कहा कि किसान मोर्चा किसानों के लिये मृदा परीक्षण, सौर उफर्जा, गोकुल योजा, मत्स्य पालन, एग्रीकल्चर इम्प्लीमेन्ट सब्सिडी और पॉली हाउस के लाभार्थियों को कार्यक्रम में बुलाकर उनके माध्यम से गांव एवं किसान को इन सारी योजनाओं की जानकारी दे रही है तथा कृषि वैज्ञानिकों के माध्यम से नई कृषि तकनीक, उन्नतशील बीज, मृदा परीक्षण का लाभ और गौवंश एवं जैवीय खेती के बारे में जानकारी 2022 तक सभी किसानों की आय दोगुनी करने के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सपने को पूरा करेंगे। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि राजा वर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री ने 86 लाख किसानों का 36 हजार करोड फसली ऋण मापफ किया तथा इस वर्ष मण्डियों से बिचौलियों को बाहर कर 5027 कृषि क्रय केन्द्र खुलवाये गये तथा 1625 समर्थन मूल्य$10 रूपये ढुलाई, 1635 रूपये प्रति कुन्तल दिये और 18.5 लाख मैट्रिक टन गेंहू की खरीद की। आलू का समर्थन मूल्य 4.87 रूपये तय किया और आलू के निर्यात की भी नीति बनाई। गन्ना किसानों का समय पर पेमेन्ट किया और गन्ना मंत्री ने भुगतान के लिये सीधे किसानों के एकाउंट में धन की व्यवस्था की। कार्यक्रम में 51 उन्नतिशील किसानों को भी सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में विधायक कपिलदेव अग्रवाल, उमेश मलिक, विजय कश्यप, विक्रम सैनी ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में मुख्य रूप से विकास पंवार, सोहनवीर सिंह, सूरत सिंह वर्मा, अशोक कंसल, रवि सैनी, राजाीव सिंह, धर्म सिंह कपासिया, हरीश अहलावत, शरद शर्मा, संजय पचैण्डा, आकाशदीप संगम, संजीव संगम प्रजापति, नीरज, अनुराग सैनी, वीरपाल निर्वाल, महेशो चौधरी, रामकुमार सहरावत, अतुल सैनी, देवव्रत त्यागी, भूषण, अनमोल छाबडा, स. जसवीर सिंह, सुशील त्यागी, प्रवीण शर्मा आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top