राष्ट्रीय लोक अदालत में हुआ 15699 मामलों का निस्तारण

राष्ट्रीय लोक अदालत में हुआ 15699 मामलों का निस्तारण

मुजफ्फरनगर। रविवार को राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण नई दिल्ली व राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनउ के अनुसार जनपद न्यायाधीश डा. गोकुलेश अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कुशल निर्देशन में राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया गया। जिसमें कापफी संख्या में अधिवक्ताओं, वादकारीगण व न्यायिक अधिकारीगण, बैंक, मोबाईल कंपनी अधिकारी द्वारा सक्रियता से भागीदारी की गयी। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मुजफ्फरनगर के सचिव अंकुर शर्मा (स. जज वरिष्ठ प्रभाग) द्वारा यह बताया गया कि इस राष्ट्रीय लोग अदालत में जिला न्यायालय मुजफ्फरनगर के 7685 मुकदमों का निस्तारण कर चौदह लाख चार हजार छह सौ पचास रूपये का अर्थदंड वसूला गया। लोक अदालत में मोटर दुर्घटना से संबंधित 35 वादों का सुलह-समझौते के आधार पर निस्तारण कर पक्षकारों को एक करोड़ चालीस लाख इकहत्तर हजार पांच सौ रूपये प्रतिकर के रूप में दिलाये गये। जिलाधिकारी मुजफ्फरनगर के द्वारा तथा अपर जिलाधिकारी/एसडीएम तथा विभिन्न तहसीलों के द्वारा 6017 मुकदमों का निस्तारण किया गया। जिलाधिकारी शामली के यहां पर 1878 मुकदमों का निस्तारण किया गया। राष्ट्रीय लोक अदालत में विभिन्न बैंकों के द्वारा भी सहभागिता की गयी तथा 101 बैंक ऋण के मामलों का आपसी सुलह-समझौते के आधार पर निस्तारण कराके कुल इकयासी लाख सतत्तर हजार छह सौ बानवे रूपये एवं आईडिया मोबाइल के 18 मामलों का आपसी सुलह-समझौते के आधार पर निस्तारण कराके सतरह हजार नौ सौ रूपये प्राप्त किये। समापन पर नोडल अधिकारी ओमवीर सिंह अपर जिला जज द्वारा सभी उपस्थित अधिकारी व कर्मचारीगणों का आभार व्यक्त किया गया। इस अवसर पर कुल 15699 मामलों का निस्तारण किया गया।

Share it
Top