त्यौहारों के मद्देनजर धारा-144 लागू

त्यौहारों के मद्देनजर धारा-144 लागू

मुजफ्फरनगर। जनपद में विश्वकर्मा पूजा,महाराजा अग्रसैन जयन्ती, दशहरा (महानवमी),दशहरा (विजय दशर्मी), मोहर्रम, महात्मा गांध्ी जयन्ती,महर्षि बाल्मीकि जयन्ती, दीपावली, भैयादूज आदि पर्व मनाए जाएंगें। उक्त के अतिरिक्त विभिन्न राजनैतिक/सामाजिक संगठनों द्वारा धरना प्रदर्शन के दृष्टिगत अवांछनीय तत्वों द्वारा कानून एवं शान्ति व्यवस्था के विपरीत कार्य करते हुए तहसील सदर के नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र की शान्ति एवं कानून व्यवस्था पर प्रतिकूल प्रभाव डाला जा सकता है और सार्वजनिक उपक्रमों एवं औद्योगिक संस्थानों को क्षति पहुंचायी जा सकती है। विगत अनुभवों के आधर पर इस तहसील सदर क्षेत्रा में छोटी-छोटी घटनाओं को लेकर कई बार साम्प्रदायिक रूप से विवाद उत्पन्न होते रहे हैं। उत्तर प्रदेश शासन द्वारा अराजक तत्वों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही एवं क्षेत्र में शान्ति व्यवस्था बनाये रखने हेतु कडे निर्देश दिये गये हैं। इस परिप्रेक्ष्य में तहसील क्षेत्र के अन्तर्गत पड़ने वाले थाना क्षेत्रों कोतवाली नगर, कोतवाली मण्डी, थाना सिविल लाईन, पुरकाजी, छपार, चरथावल, तितावी, शाहपुर, मन्सूरपुर, सिखेडा के सम्पूर्ण नगरीय/ग्रामीण क्षेत्र में प्रतिबन्धात्मक आदेश लागू करने के लिय वर्तमान परिवेश में शान्ति एवं कानून व्यवस्था/लोक पर शान्ति बनाए रखने के उद्देश्य से नगरीय क्षेत्रा में धरा 144 दण्ड प्रक्रिया संहिता के अन्तर्गत प्रतिबन्धत्मक आदेश निर्गत किये गये है।।
यह आदेश शीतल प्रसाद गुप्ता उप जिला मजिस्ट्रेट सदर, मुजफ्फरनगर दण्ड प्रक्रिया संहिता की धरा-144 के अन्तर्गत प्रदत्त का प्रयोग करते हुए जारी किये गये हैं। जिसमें कहा गया है कि विभिन्न परीक्षा केन्द्रों व उसके आसपास 100 गज की परिध् में परीक्षार्थियों के अतिरिक्त अन्य व्यक्तियों का प्रवेश वर्जित होगा। यह प्रतिबन्ध् ड्यूटी पर तैनात मजिस्ट्रेट/पुलिस अधिकारियों/शिक्षकों एवं परीक्षा में लगे शिक्षणोत्तर कर्मचारियों पर लागू नहीं होगा। परीक्षा केन्द्रों के 100 गज में ध्वनि विस्तारक यन्त्रों का प्रयोग नहीं किया जायेगा। स्कूल/कालेजों के अन्दर लगे वाईफाई को परीक्षा में बन्द रखा जायेगा। परीक्षा केन्द्रों पर तैनात पुलिस बल को परीक्षा अवध् में मजिस्ट्रेट की अनुमति के बिना मोबाईल रखने की अनुमति नहीं होगी। नगरीय क्षेत्र की सीमा के क्षेत्रन्तर्गत किसी भी सार्वजनिक स्थल पर पांच या पांच से अध्कि व्यक्ति बिना सक्षम पूर्वानुमति के एकत्रा नहीं होंगे। यह प्रतिबन्ध् विद्यालयो तथा धर्मिक स्थानों, रेलवे स्टेशन, बस स्टैण्ड, वैवाहिक कार्यक्रम, पूजा स्थलों एवं कार्यालयों पर लागू नहीं होगा। कोई भी व्यक्ति किसी प्रकार का अस्त्र-शस्त्र, विस्फोटक पदार्थ या वस्तु, जिनका प्रयोग आक्रमण करने में किया जा सकता है, जैसे-तेज धर वाले हथियार यथा-तलवार, कृपाण, लाठी-डंडा, पिस्तौल, बन्दूक, रिवाल्वर, भाला या चाकू आदि लेकर नहीं चलेेगा और न ही किसी स्थान पर इनको एकत्रित करेगा। किसी भी व्यक्ति का पुतला लेकर चलना व फूंकना प्रतिबन्ध्ति रहेगा। कोई भी फल विक्रेता कटे-फटे फलों को अपनी दुकान/ठेलों आदि पर नहीं रखेंगें। हर्ष फायरिंग पर पूर्णतया प्रतिबन्ध् लगाते हुए दिशा निर्देश निर्गत किए गए हैं। यदि कोई लाईसेंस शस्त्रधारी किसी मेले, धर्मिक जुलूस, जनसभा, चुनावी कार्यक्रम, लोकजमाव, शादी, त्यौहार इत्यादि में हर्ष फायरिंग करते हुए पाया जाता है अथवा किसी मतदेय स्थल, शैक्षणिक संस्था के अहाते अथवा सीमाओं के अन्दर ले जाते हुए या प्रदर्शन करता हुआ पाया जाता है, तो लाईसेंसी शस्त्रधारक का शस्त्र जब्त करते हुए शस्त्रा लाईसैंस के निलम्बन की कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। यह आदेश एक पक्षीय रूप से निर्गत किया जा रहा है। यह आदेश 31 अक्टूबर तक,यदि इससे पूर्व इसे निरस्त नहीं कर दिया जाता, प्रभावी रहेगा।

Share it
Top