मुजफ्फरनगर: नौचंदी की 12 घंटे की देरी बनी मुसीबत, सुपर एक्सप्रेस 25 सितंबर की गयी रद्द

मुजफ्फरनगर: नौचंदी की 12 घंटे की देरी बनी मुसीबत, सुपर एक्सप्रेस 25 सितंबर की गयी रद्द

मुजफ्फरनगर। दिल्ली-सहारनपुर मार्ग के यात्रियों की मुसीबत कम होने का नाम नहीं ले रही हैं। हर दिन किसी न किसी कारण से ट्रेनें प्रभावित हो रही हैं। जिसमें या तो वह घंटों विलंब होती हैं। या वह किसी कारण से रद्द कर दी जाती है। जिसका खामियाजा यात्रियों को घंटों प्लेटफार्म पर ट्रेनों की प्रतीक्षा करते हुए उठाना पड़ता है। बुधवार को भी तीन ट्रेनों की मैराथन रूपी विलंबता ने यात्रियों को पूरी तरह से हलकान किया।
सहारनपुर-इलाहाबाद के मध्य चलने वाली ट्रेन नौचंदी (14511-14512) आसपास के जनपदों के लोगों के लिए राजधानी व संगम नगरी जाने का एक बड़ा माध्यम है। ट्रेन संख्या 14511 की विलंबता यात्रियों के लिए काफी समय से मुसीबत का सबब बनी हुई है। महीने में एक दो दिन ही यह ट्रेन अपने तय समय पर आती होगी। अन्यथा कई-कई घंटों की विलंबता का सफर तय करते हुए इसका आगमन होता है। बुधवार को भी इसका आमगन मैराथन विलंबता के साथ हुआ। यह विलंबता एक दो घंटे की नहीं, बल्कि पूरे 12 घंटे की रही। जिसके चलते इसके यात्रियों के द्वारा इसकी आस को छोड़ दिया गया। इसका प्रातः को आने का समय दस बजे का है। वहीं गाड़ी संख्या 14512 भी इसकी वजह से प्रभावित होते हुए घंटों की विलंबता से चली, क्योंकि 14511 सहारनपुर पहुंच कर 14512 के रूप में इलाहाबाद के लिए प्रस्थान करती है। यह भी अपने निर्धारित समय से लगभग छह घंटे की विलंबता से चली। वहीं एक अन्य ट्रेन भी 12687 चेन्नई-चंडी. एक्सप्रेस भी अपने तय समय से 10 घंटे 51मिनट की विलंबता से आयी।
इसके साथ ही इस मार्ग के यात्रियों के लिए एक बड़ा झटका यह भी है कि सुपर (अप व डाउन) को भी किन्हीं अज्ञात कारणों के चलते रेलवे सूत्रों के अनुसार 25 सितंबर तक रद्द कर दिया गया है। पहले इसे आठ से लेकर 14 तक रद्द किया गया था, यह केवल 15 सितंबर को चली। इसके बाद रद्द कर दिया गया।

Share it
Top