अर्द्धसैनिक बल के जवान को 10 वर्ष की सुनाई सजा...कोर्ट ने भेजा जेल, शिमला में था तैनात, पांच हजार का जुर्माना

अर्द्धसैनिक बल के जवान को 10 वर्ष की सुनाई सजा...कोर्ट ने भेजा जेल, शिमला में था तैनात, पांच हजार का जुर्माना

मुजफ्फरनगर। अर्द्धसैनिक बल के जवान को महिला के साथ दुष्कर्म करने का दोषी करार देते हुए दस वर्ष की सजा सुनाकर कोर्ट ने आज जेल भेज दिया है। बताया जा रहा है कि आरोपी जवान ने शादी का झांसा देकर महिला के साथ दुष्कर्म किया था।
शामली जिले के ग्राम लिलौन निवासी महिला को शादी करने का झांसा देकर बलात्कार करने के मामले में हिमांचल प्रदेश के शिमला में तैनात अर्द्धसैनिक बल भारत-तिब्बत सीमा बल के जवान सचिन कुमार को कोर्ट ने दस वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाते हुए पांच हजार रूपये का जुर्माना भी किया है। इस मामले की सुनवाई एडीजे-15 राजेश भारद्वाज की कोर्ट में चली। अभियोजन पक्ष के वकील कयूम अली ने पैरवी की। सबूत की कहानी के अनुसार पीडित महिला को आरोपी जवान सचिन ने अविवाहित बताकर शादी का झांसा दिया और उसे होटल में ले जाकर कई बार बलात्कार किया, बाद में विवाह करने से इंकार कर दिया, जबकि आरोपी विवाहित व दो बच्चों का पिता है। आरोपी जवान बागपत जिले के गांव का है, जबकि पीडित महिला ग्राम लिलौन की है। जवान वर्तमान में शिमला में तैनात है, जिसे सजा काटने के लिये जेल भेज दिया गया है।

Share it
Top