अवैध कब्जे नहीं किये जायेंगे बर्दाश्तः डीएम

अवैध कब्जे नहीं किये जायेंगे बर्दाश्तः डीएम

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी राजीव शर्मा ने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में प्राप्त शिकायतों का निस्तारण संवेदनशील हेाकर प्राथमिकता पर करना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि समयबद्धता का विशेष रूप से ध्यान रखा जाये। उन्होंने कहा कि भूमि सम्बन्धित विवादों का निस्तारण राजस्व एवं पुलिस विभाग की संयुक्त टीम मौके पर भेज कर कराना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि यह भी ध्यान रखा जाये कि एक ही प्रकृति की समस्या के निस्तारण के लिए फरियादी को बार-बार न आना पड़े। उन्होंने कहा कि आईजीआरएस प्रणाली के माध्यम से प्राप्त शिकायतों का निस्तारण समय सीमा के अन्तर्गत कराया जाये और पोर्टल पर निस्तारण आख्या के साथ नजरी-नक्शा भी अपलोड कराया जाये। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में शिकायतकर्ता का संतुष्टि प्रमाण पत्रा भी संलग्न किया जाये। उन्होंने कहा कि सभी शिकायतों का स्थलीय निरीक्षण के समय शिकायतकर्ता का संतुष्टि प्रमाण पत्र लेते हुए उसे निस्तारण आख्या के साथ अपलोड करना सुनिश्चित किया जाये। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि सार्वजनिक भूमि, तालाब, नाली, चकरोड, चरागाहा, ग्राम समाज की भूमि आदि पर अतिक्रमण/अवैध कब्जे न होने पाये। उन्होंने कहा कि अवैध कब्जाधारकों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने निर्देश दिये कि सभी अधिकारीगण मुख्यमंत्राी हैल्पलाइन 1076 से संबंधित अपना पासवर्ड एनआईसी से प्राप्त कर लें और लॉग ऑन करना सुनिश्चित करें। उन्होंने बताया कि अब फरियादियों को कार्यालयों के चक्कर लगाने की आवश्यकता नहीं है। वे घर बैठे ही अपने मोबाइल पफोन से हैल्पलाइन पर अपनी समस्या रजिस्टर्ड करा सकते हैं।
जिलाधिकारी राजीव शर्मा आज सदर तहसील मंे आयेाजित सम्पूर्ण समाधान दिवस में जन शिकायतों का निस्तारण कर रहे थे। उन्होंने पफरियादियों की शिकायतों को गम्भीरता के साथ सुना और उनका प्राथमिकता पर निस्तारण कराने के निर्देश सम्बन्धित अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि सम्पूर्ण समाधान दिवस में राजस्व विभाग की अधिक शिकायतें आती हैं, इसलिए अधिकारीगण संवेदनशील होकर तत्परता के साथ इनका निस्तारण करें। इसके अतिरिक्त शिक्षा विभाग, खाद्य आपूर्ति विभाग, कृषि विभाग, पीडब्ल्यूडी, पुलिस, समाज कल्याण विभाग आदि विभागों की समस्याओं पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि एक सप्ताह के अन्दर शिकायतों का निस्तारण सुनिश्चित कराया जाये। उन्होंने बताया कि 14 अप्रैल से 5 मई तक जनपद में ग्राम स्वराज अभियान के अन्तर्गत 29 ग्रामों व 10 वार्डों में 16 जनकल्याणकारी योजनाओं से संबंधित ग्रामों व वार्डों को पूर्ण संतृप्त किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इस अभियान में किसी प्रकार की उदासीनता न बरती जाये। उन्होंने कहा कि जनपद में 27 मई, 2018 से नुमाइस ग्राउन्ड में कृषि एवं औद्योगिक प्रदर्शनी का आयोजन भी कराया जायेगा। सम्पूर्ण समाधान दिवस सदर तहसील में आज 71 शिकायत प्राप्त हुईं। इनमें 02 शिकायतों का निस्तारण मौके पर किया गया। अवशेष शिकायतें सम्बन्धित अधिकारियों को इस निर्देश के साथ उपलब्ध करायी गयीं कि एक सप्ताह के अन्दर शिकायत का निस्तारण कर आख्या उपलब्ध करायी जाये। उन्होंने कहा कि जन सामान्य को मूलभूत सुविधायें मिले। उन्होंने बताया कि वृ़द्धावस्था, विधवा एवं विकलांग पेंशन के पात्रा सीधे जनसुविधा केन्द्रों से आवेदन कर योजना का लाभ प्राप्त करें। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्य के प्रति जागरूक रहे और अपनी कार्य शैली में बदलाव के साथ-साथ तेजी भी लाये। जिलाधिकारी ने कहा कि किसी भी किसान की कोई शिकायत लम्बित नहीं हेानी चाहिए। सम्बन्धित विभागीय अधिकारी किसान की समस्या का निस्तारण गतिशीलता के साथ करे। जिलाधिकारी ने कहा कि जिन लोगांे ने सरकारी भूमि पर अवैध कब्जा कर रखा है, उन्हें बख्शा नहीं जायेगा। उन्होंने कहा कि अवैध कब्जे से मुक्त करायी गयी ग्राम समाज की भूमि पर तार बन्दी कराते हुए बोर्ड भी लगवाया जाना सुनिश्चित किया जाये। जिलाधिकारी ने कहा कि अधिकारीगण सुनिश्चित करें कि सरकार की सभी जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र जन समुदाय को मिले। उन्होंने कहा कि खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अन्तर्गत पात्र परिवारांे को निर्धारित मूल्य पर राशन दिलाया जाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि निर्विवाद विरासत के प्रकरण दर्ज कराने सुनिश्चित किये जाये। तहसील दिवस में प्राप्त शिकायतों के अलग-अलग रजिस्टर बनाये जाये और उनमें प्राप्त शिकायतें और उनकंे निस्तारण अंकित किये जाये। कोई भी शिकायत लंबित न रखी जाये। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्त देव तिवारी, सीएमओ पीएस मिश्रा, एसडीएम, तहसीलदार सहित समस्त जिला स्तरीय अधिकारी आदि उपस्थित थे।

Share it
Top