रेलवे स्टेशन के सामने गिरा होटल का लैन्टर...काफी जर्जर हालत में पहुंच चुका था सतीश होटल, दो कर्मचारी हुए घायल, पुलिस मौके पर पहुंची

मुजफ्फरनगर। काफी लम्बे समय से विवाद का कारण बने एक होटल की आज सायं छत गिरने से दो कर्मचारी घायल हो गये और हजारों रूपये की सम्पत्ति का नुकसान भी हो गया। छत का लैन्टर गिरने से भगदड मच गई। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायल कर्मचारियों को जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया। इस दौरान वहां पर लोगों की काफी भीड भी मौजूद रही। जानकारी के अनुसार मुजफ्फरनगर रेलवे स्टेशन के ठीक सामने बनी दुकानों में सतीश होटल भी काफी वर्षों से चल रहा है। इस होटल को लेकर कई बार विवाद भी बना है। आज देर सायं सतीश होटल में जब कर्मचारी अपना काम कर रहे थे और कुछ ग्राहक भी वहां मौजूद थे, तभी अचानक सतीश होटल की छत का लैन्टर भरभराकर गिर पडा। लैन्टर गिरने से वहां भगदड मच गई। मलबे के नीचे दो कर्मचारी भी दब गये। मौके पर सैंकडों लोगों की भीड इकट्ठा हो गई। सूचना मिलने पर सिविल लाईन थानाध्यक्ष डीके त्यागी भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और लोगों की मदद से होटल की छत के मलबे के नीचे दबे दोनों कर्मचारियों को बाहर निकाला। होटल में काम करने वाले दो कर्मचारियों राजेश व कल्लू को काफी चोट आयी। पुलिस ने उन्हें तत्काल जिला चिकित्सालय ले जाकर भर्ती कराया। इस दौरान वहां पर हडकम्प मचा रहा और भीड इकट्ठा होने से जाम भी लग गया। पुलिस ने काफी मशक्कत के बाद जाम खुलवाया। बताया जा रहा है कि मलबे के नीचे सारा सामान दबकर क्षतिग्रस्त हो गया, जिससे होटल मालिक को हजारों रूपये का नुकसान हो गया। बताया जा रहा है कि उक्त दुकानों का निर्माण वर्ष 1965 में हुआ था। कुछ वर्ष पूर्व एक भाजपा नेता ने उक्त सभी दुकानों को खरीद लिया था, उसके बाद सतीश होटल को छोडकर लगभग सभी दुकानों पर उक्त भाजपा नेता को कब्जा मिल गया था, लेकिन सतीश होटल पर अभी भी दिलीप आदि का अवैध कब्जा है। इस मामले की डीएम समेत सभी उच्चाधिकारियों से भी शिकायत की जा चुकी है। सभी दुकानों की छत जर्जर हालत में पहुंच चुकी है। पहले से ही आशंका जताई जा रही थी कि किसी भी दिन कोई बडा हादसा हो सकता है। आखिरकार आज आशंका सच साबित हो गई।

Share it
Share it
Share it
Top