नगर पंचायत की दुकान को लेकर हंगामा

नगर पंचायत की दुकान को लेकर हंगामा

बुढ़ाना। न्यायालय के आदेश पर दुकान खाली कराकर किरायेदार को काबिज कराते समय जमकर हंगामा हुआ। घंटो चले हंगामे के बाद पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ा। कस्बे के पारसी बस स्टैंड पर नगर पंचायत की दुकाने बनी है। वर्षो से न्यायालय में चल रहे विवाद के बाद न्यायालय से नगर पंचायत के पक्ष में निर्णय आने के बाद पूर्व के किरायेदार तसलीम बेग से दुकान खाली कराकर नये किरायेदार संदीप सैनी को काबिज कराया गया। इस दौरान दुकान खाली करने व न करने को लेकर दोनों पक्षों ने घंटों जमकर हंगामा किया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़कर दुकानदार को काबिज कराया। इस दौरान ईओ ओमगिरी, इंस्पेक्टर प्रभाकर कैंतुरा पुलिस बल व नगर पंचायतकर्मियों के साथ मौजूद रहे। नगर पंचायत ईओ ने बताया कि पीपी एक्ट के अनुसार न्यायालय से जारी निर्णय के अनुसार बेदखली की कार्रवाई कर विध्कि प्रक्रिया अपनाते हुए दुकानदार को कब्जा दिया गया है।
क्या है मामलाः कस्बे के पारसी बस स्टैंड पर दस वर्ष पूर्व नगर पंचायत ने दुकाने बनाई थी। उस समय दुकानों की नीलामी प्रक्रिया न हो पाने के कारण कुछ समय के लिए तसलीम बेग को खाली पड़ी एक दुकान 1500 रुपये प्रतिमाह के किराए पर नीलामी होने पर खाली करने की शर्त पर दी गई थी। वर्ष 2013 में नीलामी होने पर खुली बोली में अधिकतम बोली बोलकर संदीप सैनी को दुकान मिली थी। इस मामले में तसलीम बेग ने न्यायालय से स्टे ले लिया था। इस मामले में न्यायालय से 12 अप्रैल को नगर पंचायत को कब्जा लेने व बकाया किराए की रकम वसूलने का निर्णय दिया गया था।

Share it
Top