डीएम ने किया मोरना मिल का औचक निरीक्षण...साफ सफाई व लेबर सेटी सहित रिकवरी बढाने के दिये आदेश

डीएम ने किया मोरना मिल का औचक निरीक्षण...साफ सफाई व लेबर सेटी सहित रिकवरी बढाने के दिये आदेश

भोपा। शुगर मिल मोरना का औचक निरीक्षण करने पहुंचे जिलाधिकारी ने मिल के अन्दर व परिसर में फैली गन्दगी को दूर करने, मिल में कार्यरत कर्मचारियों को हैलमैट व ड्रेस कोड तथा रिकवरी को प्राईवेट मिलों के बराबर करने के आदेश देते हुए मिल के प्रत्येक विभाग का गहनता से निरीक्षण किया।
दि गंगा किसान सहकारी चीनी मिल में बुधवार शाम निरीक्षण करने पहुंचे। जिलाधिकारी राजीव शर्मा ने मिल प्लांट, चीनी मिल गोदाम, स्क्रैप, बेगास प्लांट, शीरा प्लांट, ईटीपी प्लांट सहित अन्य स्थानों का निरीक्षण कर मिल प्रधान प्रबन्धक प्रबुद्ध चौबे से तकनीकी जानकारी विस्तार से प्राप्त की। जिलाधिकारी ने मिल में और अधिक सपफाई पर ध्यान देने सहित मिल परिसर में पडे स्क्रैप के निस्तारण के लिए एमएसटीसी से तुरन्त बात करने के लिए कहा। बॉयलर सुरक्षा, प्रेशर व्यवस्था, कर्मचारियों के वेतन सेटी वॉल्व तथा चीनी उत्पादन, गन्ना पेराई के बारे में जाना। मिल प्रबन्धक ने बताया कि अब तक 2465000 कुन्तल गन्ने की पेराई की जा चुकी है तथा 251000 बोरे चीनी का उत्पादन किया जा चुका है। इस प्रकार मिल की रिकवरी 11.30 किलोग्राम है। जिलाधिकारी ने रिकवरी को प्राईवेट मिलों के बराबर 11.70 करने के आदेश दिये तथा चीनी का वर्तमान स्टॉक की जानकारी ली। जल प्रदूषण नियन्त्रण के लिए बने इटीपी प्लान्ट का निरीक्षण कर गहनता से जल के मानक के बारे में जानकारी ली। जिलाधिकारी ने बताया कि मिल के विस्तारीकरण के कार्य में और तेजी लायी जायेगी तथा शीघ्र प्रबन्धक के बारे में उच्च अधिकारियों से सम्पर्क कर शीरा निस्तारण के प्रयास किये जायेंगे। किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या का सामना न करना पडे। इसके प्रयास जारी है। इस मौके पर मुख्य लेखाकार हर्षवर्धन, चीपफ इंजीनियर एसएस सिंह, चीफ कैमिस्ट एसके सिंह, सीसीओ राजकुमार सिरोही, अवधेश कुमार, घनश्याम पाण्डेय आदि मौजूद रहे।

Share it
Top