रंगदारी वसूलने आये बदमाश की जमकर धुनाई, व्यापारियों ने पुलिस को सौंपा... थाने में बदमाश को छुडवाने के लिए लगा सिफारिशों का तांता

रंगदारी वसूलने आये बदमाश की जमकर धुनाई, व्यापारियों ने पुलिस को सौंपा... थाने में बदमाश को छुडवाने के लिए लगा सिफारिशों का तांता

मुजफ्फरनगर। एक मैडिकल स्टोर मालिक से रंगदारी वसूलने के लिए आये एक बदमाश को लोगों ने पकड लिया और उसकी जमकर धुनाई करते हुए पुलिस को सौंप दिया। बताया जा रहा है कि उक्त बदमाश को छुडवाने के लिए सिफारिशों नेताओं का सिविल लाईन थाने में जमावडा लग गया, लेकिन पुलिस ने कडी कार्यवाही की चेतावनी देते हुए सभी को बैरंग लौटा दिया।
जानकारी के अनुसार आज देर रात प्रकाश चौक व महावीर चौक के बीच में स्थित नाथ क्लीनिक के गेट पर स्थित नाथ मैडिकल स्टोर पर एक युवक पहुंचा तथा मैडिकल स्टोर स्वामी निधिश गर्ग को एक पर्ची सौंपी, जिसमें पांच लाख रूपये तुरन्त देने की बात लिखी हुई थी। मैडिकल स्टोर स्वामी निधिश गर्ग ने उसे पैसे देने से इंकार कर दिया, जिस पर उसने एक मोबाइल नम्बर मिलाकर निधिश गर्ग के कान पर लगा दिया, जिसमें उधर से धमकी दी गई कि यदि तत्काल पांच लाख रूपये नहीं दिये गये तो तेरी खैर नहीं। यह देखकर मैडिकल स्टोर मालिक निधिश गर्ग ने शोर मचा दिया, जिस पर वहां काफी दुकानदार इकट्ठा हो गये और उस बदमाश को दबोचकर जमकर धुनाई की गई। इस सम्बन्ध में डायल 100 पुलिस को भी सूचना दी गई, लेकिन बार-बार सूचना दिये जाने के बावजूद जब डायल 100 पुलिस वहां नहीं पहुंची तो सिविल लाईन पुलिस को फोन किया गया। सूचना पर सिविल लाईन थानाध्यक्ष डीके त्यागी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और उक्त बदमाश को भीड के कब्जे से छुडा लिया। निधिश गर्ग ने वह पर्ची भी पुलिस को सौंप दी, जिसमें जाहिद उर्फ लादेन निवासी सुजडू लिखा हुआ था। पुलिस ने वह नम्बर डायल किया तो वह नम्बर खालापार के एक सफेदपोश नेता का निकला। पुलिस ने उक्त बदमाश को सिविल लाईन थाने ले जाकर हवालात में बंद कर दिया। युवक को पकडे जाने की सूचना मिलते ही थाना सिविल लाईन पर बडी संख्या में भीड इकट्ठा हो गयी, जिसमें कई सफेदपोश नेता भी थे और वह पुलिस के कब्जे से उक्त युवक को छुडवाने का प्रयास करने लगे, लेकिन पुलिस ने सख्ताई का परिचय देते हुए किसी भी सूरत में उसे छोडने से इंकार कर दिया और कडी कार्यवाही करते हुए जेल भेजने की चेतावनी दी। पुलिस ने सभी सिफारिशों नेताओं को हडकाकर वहां से भगा दिया। सिविल लाईन एसओ डीके त्यागी का कहना है कि पुलिस की एक टीम सुजडू भेजी गई है, जबकि दूसरी को खालापार में उक्त सफेदपोश नेता की तलाश में भेजा गया है। पूरे मामले की जांच-पडताल भी की जा रही है।

Share it
Share it
Share it
Top