बाहरी क्षेत्र का गन्ना खरीदने पर गुस्साये किसानों का हंगामा

बाहरी क्षेत्र का गन्ना खरीदने पर गुस्साये किसानों का हंगामा

रामराज। टिकौला शुगर मिल द्वारा बाहरी क्षेत्र का गन्ना खरीदने से नाराज सैकडों किसानों ने रविवार को टिकौला शुगर मिल में जमकर हंगामा किया। इस दौरान किसानों ने बाहरी क्षेत्रा के गन्ने से लदे चार ट्रैक्टर-ट्राले पकड लिये तथा मिल अधिकारियों पर बाहरी क्षेत्रा का गन्ना खरीदने का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। टिकौला शुगर मिल द्वारा लगातार बाहरी क्षेत्रा का गन्ना खरीदे जाने की शिकायत किसानों को मिल रही थी। रविवार को भी बाहरी क्षेत्रा का गन्ना लेकर चार ट्रैक्टर-ट्राले मिल मे पहंुचे। इस दौरान तीन ट्राले तो कांटा कराने के बाद अन्दर जा चुके थे तथा एक ट्राला बाहर ही था, जिसकी जानकारी किसानों को लग गयी, तो सैंकडों किसान एकत्र हो गये तथा उन्होने गन्ना लेकर आयी ट्रैक्टर-ट्राले को पकडकर चालक से पूछताछ की, तो ट्राली में बाहरी क्षेत्र का गन्ना होना स्पष्ट हो गया। जिसके बाद किसान उत्तेजित हो गये और उन्होंने हंगामा शुरू करते हुए तोल बन्द करा दी तथा मिल प्रबन्धन के विरूद्ध नारेबाजी शुरू कर दी। जिसके बाद किसान एकत्रा होकर कैन जीएम सुशील खोकर के दफ्तर पहंुचे जमकर खरी-खोटी सुनाई। इस दौरान उत्तेजित किसानों ने मिल प्रबन्धन पर गम्भीर आरोप लगाते हुए अधिकारियों को जमकर खरी-खोटी सुनाई। किसानों का आरोप है कि टिकौला शुगर मिल स्थानीय किसानों का इन्डेन्ट जारी नहीं कर रहा है और बाहरी क्षेत्रा का गन्ना नकद खरीद रहा है। किसानों ने यह भी आरोप लगाया कि मिल का एक अधिकारी ही स्वंय बाहरी क्षेत्रा का गन्ना खरीद कर मिल को सप्लाई कर रहा है। हंगामे के घन्टों बाद मिल प्रबन्धक रवि कुमार कथूरिया ने किसानों से मापफी मांगी तथा आश्वासन दिया कि बाहरी क्षेत्रा का गन्ना नहीं खरीदा जायेगा, जिसके बाद किसान शान्त हुए। लच्छी सिंह, ब्रजपाल सिंह, मोनू धीमान, सुभाष, सोहन, राजपाल सिंह, गुरजीत, सोमेन्द्र, रविन्द, लोकेन्द्र गुर्जर, सतेन्द्र सचिन कुमार, रामपाल, आदि सैकडो किसान शामिल रहे।

Share it
Top