नगर में छात्राओं ने निकाली नारी सुरक्षा जागरूकता रैली...एसएसपी समेत अनेक पुलिस अधिकारियों ने हरी झंडी दिखाकर रैली को किया रवाना

नगर में छात्राओं ने निकाली नारी सुरक्षा जागरूकता रैली...एसएसपी समेत अनेक पुलिस अधिकारियों ने हरी झंडी दिखाकर रैली को किया रवाना

मुजफ्फरनगर। उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नारी सुरक्षा एवं सशक्तिकरण जागरूकता सप्ताह के अंतर्गत आज दर्जन भर स्कूलों की छात्राओं ने नगर में जागरूकता रैली निकाली। रैली को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक समेत पुलिस के तमाम बडे अधिकारियों ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर नारी सुरक्षा एवं सशक्तिकरण को लेकर छात्राओं के मध्य स्लोगन प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया।
मिली जानकारी के अनुसार उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा चलाये जा रहे नारी सुरक्षा एवं सशक्तिकरण जागरूकता सप्ताह के अंतर्गत आज दर्जन भर स्कूलों की छात्राओं ने नगर में जोरदार जागरूकता रैली निकाली। रैली का शुभारम्भ जैन कन्या पाठशाला इंटर कालेज में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंतदेव तिवारी, एसपी सिटी ओमवीर सिंह, महिला थानाध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा, कालेज अध्यक्ष रविन्द्र जैन नावला, प्रधानाचार्या श्रीमती सारिका जैन ने हरी झंडी दिखाकर किया। यह रैली पुलिस की कडी सुरक्षा व्यवस्था के बीच शहर के मुख्य चौराहों से होती हुई पुलिस लाईन में जाकर समाप्त हुई। इस रैली में नगर के दर्जनों स्कूलों की छात्राओं ने प्रतिभाग कर शहरवासियों को नारी सुरक्षा एवं सशक्तिकरण के प्रति जागरूक किया। समस्त छात्राएं अपने हाथों में स्लोगन लिखी तख्तियां लिये हुए थी, जिन पर नारी सुरक्षा एवं सशक्तिकरण से सम्बन्धित नारे लिखे हुए थे। पुलिस लाईन में रैली के समापन अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनंतदेव तिवारी ने छात्राओं का आह्वान किया कि वे अपनी सुरक्षा को लेकर बेहद सतर्क रहें और किसी भी स्थिति में हिम्मत नहीं हारें। स्कूली छात्राओं को अपने साथ-साथ दूसरों की सुरक्षा किस प्रकार करनी है, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने इस सम्बन्ध में भी विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि किसी भी आपात स्थिति में छात्राएं एवं महिलाएं तुरंत 100 नम्बर डायल करें या 181 पर काल करें। उन्होंने बताया कि उत्तर प्रदेश सरकार ने महिलाओं के लिये एक योजना लागू की है, जिसमें महिलाओं की सुरक्षा व उनके सम्मान के लिये 181 व 1090 काफी कारगर साबित हो रही है। उन्होंने कहा कि शिकायत दर्ज कराने वाली छात्राओं का नाम और पता पूरी तरह से गुप्त रखा जाता है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने बताया कि हम सभी के लिये सरकार ने एक छत के नीचे महिलाओं को उनका हक व पहचान दिलाने के लिये प्रदेश के 11 जनपदों में जिला अस्पतालों के अन्दर आशा ज्योति केन्द्र खोले हैं, इन केन्द्रों पर विधिक सहायता, परामर्श, चिकित्सीय जानकारी, सुविधा एवं पुलिस सहायता के सम्बन्ध में विस्तार से जानकारियां दी जाती हैं। इस अवसर पर छात्राओं के मध्य स्लोगन प्रतियोगिताओं का आयोजन भी किया गया, जिसमें विजयी छात्राओं को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुरस्कार देकर सम्मानित किया। रैली को लेकर छात्राओं में विशेष उत्साह देखने को मिला।

Share it
Top