गन्ने से भरा ट्रॉला सडक पर पलटा, हंगामा...ट्रॉले के नीचे स्कूली बच्चों के दबने की सूचना से पुलिस प्रशासन में मचा हडकम्प

गन्ने से भरा ट्रॉला सडक पर पलटा, हंगामा...ट्रॉले के नीचे स्कूली बच्चों के दबने की सूचना से पुलिस प्रशासन में मचा हडकम्प

रामराज। रामराज खादर क्षेत्र से गन्ना लेकर आ रहा एक ट्राला रामराज में भरे बाजार अनियंत्रित होकर चाय के खोखे पर पलट गया, जिससे चाय विक्रेता गन्नों के नीचे दबकर गम्भीर रूप से घायल हो गया।
वहीं बस की इंतजार में खड़े स्कूली बच्चों व ग्रामीणों के ट्राले के नीचे दबने की अपफवाह फैल गयी। जिस पर सैकड़ांे ग्रामीणों ने व जेसीबी द्वारा गन्ने को हटवाकर घायल चाय विक्रेता को निकाला। वहीं ट्राले के नीचे किसी बच्चे के न मिलने पर प्रशासन ने राहत की सांस ली। जबकि ऑवर लोड ट्राले के पलटने से आक्रोशित भीड ने ट्रैक्टर में तोडफोड कर दी।
रामराज खादर क्षेत्र से प्रतिदिन गन्नों से लदे सैकड़ांे ओवर लोड ट्रैक्टर-ट्राले रामराज के मुख्य बाजार से गुजरते हैं। जिससे बाजार में हादसा होने का हर समय भय बना रहता है। व्यापार मंडल के महामंत्राी देवेन्द्र चौहान सहित सैकडों ग्रामीणों ने कई बार इन ओवर लोड ट्रैक्टर-ट्रॉलों की शिकायत मुजफ्फरनगर व मेरठ के आला-अधिकारियों से की थी, किन्तु अधिकारी नहीं चेते। जिसके चलते सोमवार को करीब चार बजे रामराज थाना क्षेत्र के ग्राम चुहापुर की गऊशाला के पास गन्ने से लदा एक ओवरलोड ट्रैक्टर-ट्रॉला टिकौला शुगर मिल में आ रहा था। जैसे ही यह रामराज के मुख्य बाजार में स्थित मस्जिद के निकट पहुंचा तभी सड़क में बने गड्डो में ऑवर लोड ट्रैक्टर-ट्राला अनियंत्रित होकर सड़क किनारे चाय के खोखे पर व सड़क पर पलट गया। जिस जगह ट्रैक्टर-ट्राला पलटा उस समय वहां पर स्कूली बच्चों सहित खादर की ओर जाने वाले ग्रामीण बस की इंतजार में खड़े थे जिससे मौके पर ट्रैक्टर-ट्राले के नीचे स्कूली बच्चों सहित ग्रामीणों के दबने की खबर पफैल गयी। जिस पर गुस्साए ग्रामीणों ने ट्रैक्टर में तोड़फोड़ कर दी तथा सैकड़ो ग्रामीणों ने आनन-फानन में खुद तथा जेसीबी की मदद से गन्नों को हटाने का कार्य शुरू कर दिया।
इसी दौरान ट्राले के नीचे कई लोगों के दबने की सूचना से प्रशासन में हड़कम्प मच गया। जिससे मुजफ्फरनगर व मेरठ जनपद की पुलिस मौके पर पहुंच गयी तथा गन्ने को हटवाया। पुलिस ने गन्नांे के नीचे दबे गम्भीर घायल चाय की दुकान करने वाले रामराज निवासी मदनपाल कक्कड़ को बाहर निकाला तथा मेरठ के अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं ट्राले के नीचे बच्चों व ग्रामीणों के दबे न होने पर प्रशासन ने राहत की सांस ली है।

Share it
Top