किसके सिर सजेगा ताज, फैसला आज...दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर, कडी सुरक्षा में होगी मतगणना

किसके सिर सजेगा ताज, फैसला आज...दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर, कडी सुरक्षा में होगी मतगणना

मुजफ्फरनगर (कुलदीप त्यागी)। प्रतिष्ठापूर्ण नगर निकाय चुनाव की मतगणना शुक्रवार को कडी सुरक्षा के बीच सुबह आठ बजे से प्रारम्भ हो जायेगी। देर रात तक नतीजे घोषित होने की संभावना जताई जा रही है। पुलिस प्रशासन ने मतगणना के लिये कडे सुरक्षा प्रबंध किये हैं। नवीन मंडी स्थल में बनाये गये मतगणना चबूतरों पर कडी सुरक्षा रहेगी और सभी प्रवेशद्वारों पर बैरिकेटिंग करते हुए पर्याप्त पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया है।
जनपद मुजफ्फरनगर में नगर निकाय चुनाव के लिये विगत 26 नवम्बर को हुए मतदान के पश्चात अब सभी की निगाहें एक दिसम्बर, शुक्रवार को होने वाली मतगणना पर आकर टिक गई है। राजनीतिक गलियारों से लेकर गली-चौराहों तक हर तरफ मतगणना के बारे में ही चर्चा हो रही है। सभी की निगाहें नतीजों पर टिकी हुई हैं। जिला प्रशासन ने पुलिस के साथ मिलकर पर्याप्त सुरक्षा प्रबंध करते हुए निर्विघ्न मतगणना का कार्य सम्पन्न कराने की तैयारी कर ली है। नवीन मंडी स्थल पर शुक्रवार को प्रात: आठ बजे से मतगणना प्रारम्भ हो जायेगी। मुजफ्फरनगर नगर पालिका व चरथावल और पुरकाजी नगर पंचायत की मतगणना नवीन मंडी स्थल पर होगी। एसएसपी अनंतदेव तिवारी ने मतगणना की तैयारियों के लिये कडे सुरक्षा प्रबंध किये हैं। एसपी सिटी ओमवीर सिंह, सीओ सिटी हरीश भदौरिया, सीओ मंडी राजीव गौतम, शहर कोतवाल संजीव शर्मा, नई मंडी कोतवाल कुशलपाल सिंह, सिविल लाईन थानाध्यक्ष डी.के. त्यागी व महिला थानाध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा को अलग-अलग स्थानों पर भारी पुलिस बल के साथ तैनात कर दिया गया है। नवीन मंडी स्थल पर जाने वाले सभी रास्तों पर बैरिकेटिंग कर चैकिंग प्वाइंट बनाये गये हैं। विश्वकर्मा चौक से लेकर बालाजी मंदिर चौक से लेकर नवीन मंडी स्थल के चारों तरफ के रास्तों पर पर्याप्त पुलिस बल तैनात रहेगा। मतगणना के पश्चात चुनाव परिणाम घोषित होने पर विजयी प्रत्याशियों व पराजित प्रत्याशियों व उनके समर्थकों में टकराव रोकने के लिये भी कडे सुरक्षा प्रबंध कर दिये गये हैं। भाजपा प्रत्याशी सुधाराज शर्मा व कांग्रेस प्रत्याशी अंजू अग्रवाल के बीच सीधा मुकाबला माना जा रहा है, लेकिन सपा प्रत्याशी मिथलेश पाल व बसपा प्रत्याशी को भी पर्याप्त सुरक्षा दी जा रही है। सभी प्रत्याशियों को कडे सुरक्षा घेरे में रखा जायेगा। परिणाम घोषित होने के बाद विजयी जुलूस पर रोक लगाई गई है, ताकि किसी तरह के टकराव की स्थिति नहीं बन पाये।

Share it
Top