समस्याओं को लेकर प्रधान प्रबन्धक का घेराव किया

समस्याओं को लेकर प्रधान प्रबन्धक का घेराव किया

भोपा। मोरना चीनी मिल से जुडी समस्याओं के शीघ्र निदान व समस्याओं के निदान के लिए नेट लॉगिन को हर समय चालू रखने की मांग करते हुए प्रधान प्रबन्धक का घेराव किया तथा आक्रोशित किसान नेताओं ने घंटों गन्ना चैन को बन्द रखा। आश्वासन के उपरान्त ही गन्ना चैन को दोबारा चालू किया गया।
दि गंगा किसान सहकारी चीनी मिल मोरना पर हंगामा कर रहे किसानों ने बताया कि मिल प्रबन्धन की कमी के चलते किसानों की समस्याओं का निदान नहीं हो पा रहा है। मिल प्रबन्धन द्वारा किसानों को बताया जा रहा है कि समस्याओं के लिए माह की 3 व 17 तारीखों को ही केवल कम्प्यूटर लखनऊ लॉग इन नहीं हो पाता, जिस कारण किसानों की समस्या का निदान नहीं हो पाता। 3 व 17 तारीख को भी कनैक्टिविटी फेल या सर्वर डाउन हो जाना बताया जाता है, जिस कारण किसानों की पर्चियों की समस्या, नये गन्ना सट्टा चालू करना व मृतकाश्रित किसान परिजनों आदि के नाम पर गन्ना सट्टा चालू कराने के लिए आए दिन किसान मिल प्रांगण स्थित कम्प्यूटर विभाग के कर्मचारियों से मिलकर अपनी समस्याओं के निदान की मांग करते रहते हैं, लेकिन लखनऊ स्थित पफैडरेशन को समस्त उत्तर प्रदेश चीनी मिल कम्प्यूटर विभाग का कंट्रोल रूम सरकार ने बना रखा है, जिसके चलते लखनऊ स्थित आला अधिकारियों के अधीन किसानों को सम्ब( किया गया है, जिससे आए दिन किसान मोरना मिल में अपने कार्य कराने के लिए परेशान व लाचार होने लगे हैं। आक्रोशित किसानों ने मिल के प्रधान प्रबन्धक प्रबु( चौबे का घेराव किया। प्रधान प्रबन्धक ने समस्या का निदान ऊपर से होने की बात कही, जिस पर किसानों ने गन्ना तोल को बन्द कराकर चैन को बन्द कराते हुए नारेबाजी की। घंटों की नारेबाजी के उपरान्त प्रधान प्रबन्धक ने समस्याओं के एकत्रा हो जाने पर अन्य दिनों में कम्प्यूटर को लखनऊ से लॉग इन हो जाने का आश्वासन देकर चैन को पुनः चालू कराया। वहीं किसानों ने समस्या का पूर्ण रूप से समाधान न होने पर पुनः बडे आन्दोलन की चेतावनी दी। युवा भाजपा नेता अमित राठी ने कहा कि मोरना क्षेत्रा का किसान लखनऊ बैठे अधिकारियों के रहमोकरम पर अपनी जीविका के लिए लडाई लडने को कमर कस चुके हैं। किसान अब अपने हक की लडाई के लिए किसी भी हद तक जाने को तैयार है। किसान का शोषण किसी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। इस मौके पर कैप्टन ज्ञानेन्द्र सिंह, रामपाल नेता, देवेन्द्र चेयरमैन, अजय चेयरमैन, राजीव चेयरमैन, रविन्द्र सिंह, गुड्डू, पफोन्दी, चन्द्रवीर राठी, बिन्दर, नीटू, डड्डू आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top