शान्तिपूर्ण मतदान होने से पुलिस ने ली राहत की सांस...ड्रोन कैमरों से हुई बूथों की निगरानी

शान्तिपूर्ण मतदान होने से पुलिस ने ली राहत की सांस...ड्रोन कैमरों से हुई बूथों की निगरानी

मुजफ्फरनगर। नगर निकाय चुनाव के दूसरे चरण में आज मुजफ्फरनगर जनपद में शान्तिपूर्ण तरीके से मतदान सम्पन्न होने पर पुलिस-प्रशासन ने राहत की सांस ली। छिटपुट घटनाओं को छोडकर जनपद में कोई अप्रिय घटना घटित नहीं हुई। मुजफ्फरनगर जनपद की दो नगरपालिका व आठ नगर पंचायतों में आज सुबह 7.30 बजे से प्रारम्भ हुई मतदान प्रक्रिया सायं 5 बजे तक चली। इसके बाद कडी सुरक्षा के बीच बूथों से ले जाकर मतपेटियों को स्ट्रोंग रूम में जमा करा दिया गया। सहारनपुर रेंज के डीआईजी केएस इमैनुअल, एसएसपी अनन्तदेव तिवारी, एसपी सिटी ओमवीर सिंह, एसपी देहात अजय सहदेव, सीओ सिटी हरीश भदौरिया, शहर कोतवाल संजीव शर्मा, सिविल लाईन थानाध्यक्ष डीके त्यागी, नई मण्डी कोतवाल कुशलपाल सिंह, महिला थानाध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा पुलिस व सैनिक बलों के साथ लगातार बूथों का भ्रमण करते रहे और बूथों के बाहर भीड लगा रहे लोगों को लाठियां फटकारकर वहां से भगाते रहे। हालांकि वैसे तो शहर में सभी स्थानों पर शान्तिपूर्ण मतदान हुआ, लेकिन कुछ स्थानों पर हल्की-फुल्की झडप व कुछ देर के लिये हंगामे की स्थिति बनी रही, जिसे पुलिस ने समय रहते सम्भाल लिया। मौहल्ला रामपुरम में एक बूथ पर फर्जी मतदान को लेकर हंगामा कर रहे सभासद के दो प्रत्याशियों को वहां मौजूद छपार एसओ आदेश त्यागी ने जमकर हडकाया तथा दोनों को अलग-अलग जगह पर बैठने की हिदायत दी। इस दौरान पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में लेकर कोतवाली भेज दिया। इसके बाद मामला शान्त हो सका। इसी प्रकार रामपुरी के एक बूथ पर एक प्रत्याशी के पति पर कुछ लोगों ने धमकाने का आरोप लगाते हुए पुलिस से शिकायत की। पुलिस ने महिला प्रत्याशी के पति को मतदान केन्द्र से बाहर निकाल दिया। इसी प्रकार रामलीला टिल्ला पर बूथ के बाहर भीड लगा रहे लोगों को एसपी सिटी ओमवीर सिंह ने वहां से हडकाकर भगा दिया। लद्दावाला, रामपुरी क्षेत्र में स्थित एक स्कूल में फर्जी मतदान की सूचना पर पहुंचे तितावी थानाध्यक्ष सूबे सिंह को बताया गया कि वोटर से गलती से एक बैलेट पेपर नीचे गिर गया था, जिसको अंदर बैठे मतदान कर्मचारी ने उठाकर मतपेटी के अंदर डाल दिया था, इसी बात को लेकर कुछ एजेन्टों ने हंगामा कर दिया था, लेकिन पुलिसकर्मियों ने उक्त एजेन्टों को मतदान केन्द्र से बाहर का रास्ता दिखा दिया। वार्ड-40 के अंतर्गत मौहल्ला रहमतनगर में स्थित आजाद जूनियर हाईस्कूल में दो महिलाओं को फर्जी वोट डालने से महिला पुलिसकर्मियों ने रोक दिया। वहां पर मौजूद पूर्व सभासद असद जमा एडवोकेट ने पुलिस से उक्त महिलाओं की शिकायत की थी। इसी प्रकार वार्ड-31 के अंतर्गत एक बूथ पर भी वोट डालने को लेकर एक प्रत्याशी के समर्थकों में हाथापाई हो गयी, लेकिन पुलिस ने तत्परता का परिचय देते हुए मामला बिगडने से पहले ही सम्भाल लिया और उक्त लोगों को हडकाकर वहां से भगा दिया। इसी प्रकार कई स्थानों पर हल्की झडप के अलावा मतदान शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न हो गया। मतदान प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद कडी सुरक्षा के बीच मतपेटियों को भी स्ट्रोंग रूम तक पहुंचाया गया। सिविल लाईन थानाध्यक्ष डीके त्यागी व महिला थानाध्यक्ष मीनाक्षी शर्मा ने भारी पुलिसबल के साथ अपने क्षेत्रा के बूथों से मतपेटियों को स्ट्रोंग रूम तक पहुंचाया। मुजफ्रपफरनगर के अलावा नगर पंचायत चरथावल में सीओ सदर योगेन्द्र सिंह व चरथावल थानाध्यक्ष गिरीशचन्द शर्मा, बुढाना में सीओ हरिराम यादव व कोतवाल चमन सिंह चावडा, खतौली में सीओ राजीव कुमार सिंह व कोतवाल पीपी सिंह लगातार बूथों का भ्रमण करते रहे और किसी को भी बूथ के आसपास नहीं भटकने दिया। वोट डालने के लिये आने वाले मतदाताओं को बूथ के अंदर जाने दिया गया। किसी को भी बूथ के भीतर मोबाईल लेकर जाने की इजाजत नहीं थी। जनपद की दोनों नगरपालिकाओं व सभी आठों नगर पंचायतों में कुल मिलाकर मतदान शान्तिपूर्ण तरीके से सम्पन्न होने पर पुलिस-प्रशासन ने राहत की सांस ली।

Share it
Top