मुजफ्फरनगर: सभासद प्रत्याशी को हिरासत में लेने पर हंगामा...प्रवीन पीटर को छुडवाने के लिये मौहल्ला प्रेमपुरी व कृष्णापुरी के सैकडों लोग कोतवाली पहुंचे

मुजफ्फरनगर। नगर निकाय चुनाव में मतदान होने में दो दिन का समय शेष रहने के साथ ही प्रत्याशियों के बीच खूब आरोप-प्रत्यारोप हो रहे है। आज भी एक प्रत्याशी द्वारा दूसरे प्रत्याशी की शिकायत करने पर शहर कोतवाली में दर्ज हुए मुकदमें में आरोपी सभासद पद के प्रत्याशी को हिरासत में लेने पर जमकर हंगामा हुआ। मौहल्ला कृष्णापुरी व प्रेमपुरी के सैकडों लोगों ने प्रत्याशी को छुडाने के लिये सीओ के सामने ही नारेबाजी शुरू कर दी। मजबूरन पुलिस को उक्त प्रत्याशी को छोड़ना पड़ा। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के अन्तर्गत मौहल्ला कृष्णापुरी व प्रेमपुरी के सैकडों महिला व पुरूष देर रात्रि में शहर कोतवाली पहुंचे और उन्होंने हंगामा शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि नगर निकाय चुनाव में वार्ड 23 से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में सभासद पद पर चुनाव लड़ रहे प्रवीन कुमार मित्तल उर्फ पीटर को पुलिस ने शहर कोतवाली में लाकर बंद कर दिया था। आरोप है कि दूसरे प्रत्याशी ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी कि प्रवीन पीटर वार्ड में नाली सफाई व लाइट लगवा रहा है, जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। पुलिस ने प्रवीन पीटर के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया और उसे लाकर हवालात में बंद कर दिया। इस बात की जानकारी मिलते ही उनके समर्थकों में रोष फैल गया और बडी संख्या में समर्थक कोतवाली पहुंचकर हंगामा करने लगे। शहर कोतवाल संजीव शर्मा व एसएसआई समयपाल सिंह अत्री ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वह प्रवीन पीटर को छोडने की मांग पर अड गये। हंगामे की सूचना पर सीओ सिटी हरीश भदौरिया भी शहर कोतवाली पहुंचे और पूरे मामले की जानकारी ली। सीओ सिटी ने प्रवीन पीटर को हवालात से बाहर निकलवाया और पूरे मामले की जानकारी ली, जिस पर प्रवीन पीटर ने बताया कि उनके सामने चुनाव लड रहे दूसरे प्रत्याशी ने झूठी शिकायत की है, जिस पर सीओ सिटी ने प्रवीन पीटर को छोड दिया और मामले की जांच करने के निर्देश पुलिस को दिये।

Share it
Top