पुत्रवधू ने ही करायी विधवा सास की हत्या...सात साल पहले हुई शादी से नाखुश थी सास राधरानी, कई साल से चल रहा था कोर्ट में मुकदमा

पुत्रवधू ने ही करायी विधवा सास की हत्या...सात साल पहले हुई शादी से नाखुश थी सास राधरानी, कई साल से चल रहा था कोर्ट में मुकदमा

मुजफ्फरनगर। नई मण्डी थानाक्षेत्र के अंतर्गत एटूजैड कालोनी निवासी विधवा महिला राधारानी की हत्या उसकी ही पुत्रवधू भावना ने अपने दो साथियों के साथ मिलकर करायी थी। नई मण्डी पुलिस ने हत्याकाण्ड का खुलासा करते हुए मृतका की पुत्रवधू व एक अन्य महिला को गिरफ्तार कर लिया, जबकि गोली मारने वाले दो युवक अभी पफरार चल रहे है, जिनकी तलाश जारी है। बताया जा रहा है कि मृतका के पुत्र से सात वर्ष पूर्व आरोपी महिला भावना की शादी हुई थी, शादी से नाखुश होने पर ही उसकी हत्या की गयी है। दोनों के बीच पिछले कई सालों से कोर्ट में मुकदमा भी चल रहा था।
नई मण्डी कोतवाली में आयोजित पत्रकारवार्ता में एसपी सिटी ओमवीर सिंह ने बताया कि विगत 11 नवम्बर को आशीष कुमार सिंघल पुत्रा स्व. ओमकुमार सिंघल निवासी एटूजैड कालोनी ने तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था। मुकदमा अपराध संख्या 1209/17 धारा 302 आईपीसी में दर्ज कराया गया था। आशीष कुमार सिंघल की माताजी श्रीमति राधारानी की एटूजैड रोड पर बाईक सवार दो बदमाशों ने 11 नवम्बर की सायं को उस समय गोली मारकर हत्या कर दी थी, जब वह स्कूटी पर सवार होकर दूध लेकर वापस अपने घर लौट रही थी। एसएसपी अनन्तदेव तिवारी के निर्देशन में एसपी सिटी ओमवीर सिंह व सीओ मण्डी राजीव गौतम के नेतृत्व में एक टीम गठित की गयी, जिसमें एसएचओ कुशलपाल सिंह, एसएसआई मदन सिंह बिष्ट, उपनिरीक्षक करण नागर, का. अंकुर व गौरव के साथ ही क्राईम ब्रांच प्रभारी प्रभाकर कैन्तुरा, कां. कुलवन्त व दीपक को शामिल कर घटना का खुलासा करने के लिये लगाया गया था। सर्विलांस की मदद से पुलिस टीम ने अथक प्रयास करते हुए सपफल वर्कआउट किया। पुलिस ने आज जानसठ रोड पुल के नीचे से इस घटना से प्रकाश में आयी महिला भावना पुत्राी मदनलाल निवासी गांधीनगर व श्रीमति राकेश पत्नी अंग्रेज निवासी भटौडा थाना सिखेडा को गिरफ्तार कर लिया, जिन्होंने अपने जुर्म का इकबाल कर लिया। भावना ने पूछताछ में बताया कि उसकी शादी सात वर्ष पूर्व आशीष कुमार सिंघल से हुई थी, जिससे तीन साल से अनबन चल रही है और वह मायके में रह रही है। इस मामले में उसकी सास राधारानी फैसला नहीं होने दे रही थी। इसी दौरान उसकी मुलाकात मोहित पुत्र अंग्रेज से हो गयी। उसने मेरे झगडे को निपटाने व मुझसे शादी करने की बात रखी थी, जिस पर मैने हां कर दी थी। मैं भी मोहित से प्रेम करने लगी थी। विगत 11 नवम्बर को मैने मोहित व उसके पिता अंग्रेज तथा उसकी माता श्रीमति राकेश और मोहित के दोस्त मनीष पुत्र मनोज कुमार निवासी जडौदा थाना मंसूरपुर के साथ एक योजना बनाकर मौका देखकर सास को ठिकाने लगाने की योजना बनाई थी। इसके बाद दबाव में फैसला हो जाने की भी उन्हें उम्मीद थी। फैसला होने के बाद ही श्रीमति राकेश ने मेरी शादी मोहित से कराने का वायदा किया था, जिस पर मोहित व मनीष ने मौका देखकर राधारानी को मारने की ठान ली और शाम को करीब 5.30 बजे राधारानी जब दूध लेकर स्कूटी से एटूजैड रोड पर वापस आ रही थी, तो मोहित व मनीष ने राधारानी के सिर में गोली मार दी और उसकी हत्या कर दी। इस घटना के संबंध में मृतका के पुत्र आशीष ने नई मण्डी कोतवाली में अज्ञात में मुकदमा दर्ज कराया था, लेकिन पुलिस ने आज घटना का खुलासा करते हुए भावना पुत्र मदनलाल निवासी गांधीनगर थाना नई मण्डी व श्रीमति राकेश पत्नी अंग्रेज निवासी भटौडा थाना सिखेडा को गिरफ्तार कर लिया, जबकि फरार आरोपी मोहित व मनीष की तलाश की जा रही है। इस घटना का खुलासा करने में नई मण्डी एसएचओ कुशलपाल सिंह, क्राईम ब्रांच के प्रभारी प्रभाकर कैन्तुरा, वरिष्ठ उपनिरीक्षक मदनसिंह बिष्ट समेत पुलिस टीम शामिल रही।

Share it
Top