असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर करें कार्यवाहीः प्रियदर्शी

असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर करें कार्यवाहीः प्रियदर्शी

मुजफ्फरनगर। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने कहा कि सभी थानाध्यक्ष अपने क्षेत्र में बूथों का निरीक्षण कर लें और बूथों पर उपलब्ध बाउन्ड्री वॉल तथा बिजली, पानी तथा एप्रोच रोड आदि को दिखवा लें। उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय चुनाव निर्भिक एवं निष्पक्ष तथा शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराये जाने है। उन्होंने कहा कि असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर लिया जाये और उनकों 107/16 में पाबन्द करना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि समस्त एसडीएम एवं सीओ भी नियमित रूप से अपने क्षेत्रों में भ्रमणशील रहकर यह सुनिश्चित करें कि आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन न होने पाये। यदि कहीं आचार संहिता का उल्लंघन पाया जाता है, तो उसका संज्ञान लेकर मुकदमा दर्ज कराया जाये। उन्होंने कहा कि समस्त एसडीएम तीन दिनों के अन्दर बूथों पर नगर पालिका परिषद का बूथ संख्या एवं अन्दर कक्ष संख्या अंकित करा दें। उन्होंने कहा कि समस्त बीएलओ की सूची सीओ के माध्यम से थानाध्यक्षों को पहंुचा दी जाये। उन्होने कहा कि बूथों के भ्रमण पर जाते समय बीएलओ को भी बुलवा लंे।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी जीएस प्रियदर्शी एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अनन्तदेव तिवारी आज यहां चौधरी चरण सिंह जिला पंचायत सभागार में कानून व्यवस्था एवं बूथों के संवेदनशील/अति संवेदनशील के चिन्हीकरण के सम्बन्ध में बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि रूट चार्ट बनाते समय इन तथ्यों को भी दृष्टिगत रखा जाये कि पोलिंग पार्टियों को अधिक पैदल न जाने पडें। उन्होंने कहा कि मतदेय स्थलों पर पर्याप्त पुलिस फोर्स की उपलब्धता सुनिश्चित करायी जायेगी। उन्होंने कहा कि थोडे-थोडे समय के अन्तराल में सेक्टर मोबाइल, जोनल मोबाइल, थाना मोबाइल एवं अन्य उच्चाधिकारी भ्रमणशील रहेंगे और बूथों पर निगरानी रखेंगे। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष बने रहे और आप सभी की निष्पक्षता आपके व्यवहार से झलकनी चाहिए। उन्होंने सभी थानाध्यक्षांे से उनके थाना क्षेत्रों के मतदेय स्थल एवं बूथों पर उपलब्ध सुविधाओं बिजली, पानी, बाउन्ड्री वॉल एवं अन्य सुविधाओं के बारे में समीक्षा की।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी ने बीएसए को निर्देश दिये कि मतदान से पूर्व सभी विद्यालयों एवं शिक्षण संस्थाओं मंे बिजली कनेक्शन की उपलब्धता सुनिश्चित करते हुए पानी की उपलब्धता भी सुनिश्चित कर ली जाये। इसके अतिरिक्त सभी अधिशासी अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे अपने क्षेत्रों में सभी बूथों पर साफ-सफाई एवं शौचालयों को साफ-सुथरा करा दे और उनके स्तर पर जो सहयोग अपेक्षित है, प्रदान किया जाये। उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियां 25 नवम्बर को ही अपने आवंटित गन्तव्य को रवाना कर दी जायेगी। उन्होंने कहा कि उनके ठहरने का प्रबन्ध सहित मिड-डे-मिल के रसोईयों से उनके भोजन बन वाने की भी व्यवस्था करा दी जाये। उन्होंने कहा कि नास्ते एवं भोजन का पैसा का भुगतान पोलिंग पार्टियों के रवाना से पूर्व ही करा दिया जायेगा। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष बने रहे और बूथ पर पहंुचने के बाद वहां की स्थिति से भलि-भांति परिचित हो ले। उन्होंने कहा कि बीडीओ के साथ बैठक कर ली जाये। उन्होंने कहा कि सतत् विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के निर्देश अधिशासी अभियंता विद्युत को दिये। उन्होंने कहा कि विद्युत सम्बन्धित किसी भी शिकायत के लिए अधिशासी अभियंता सोमदत्त शर्मा के मोबाइल नम्बर 9412749378 एवं इस अवधि के लिए कंट्रेाल रूम 9412749362 पर संपर्क करे।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी ने कहा कि नामांकन प्रक्रिया के बाद बूथों की संवेदनशीलता में कमी आयी है या बढी है, इस पर अपनी रिपोर्ट दे। उन्होंने कहा कि निष्पक्ष चुनाव कराने में कोई बाधा उत्पन्न न हो, इसके लिए अराजक एवं गुण्डा तत्वों का चिन्हीकरण करते हुए 107/16 में पाबन्द करना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि किसी भी दशा में आचार संहिता का उल्लंघन न होने पाये। उन्होंने कहा कि अराजक एवं गुण्डा तत्वों के खिलापफ कडी कार्यवाही सुनिश्चित करायी जाये, जिससे शांतिपूर्ण मतदान हो सके। उन्होंने कहा कि स्वतः संज्ञान के आधार पर भी निरोधात्मक कार्यवाही अमल में लायी जाये।
इसके पूर्व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा कि शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष चुनाव सम्पन्न कराने के लिए पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती करायी जायेगी। इसके अतिरिक्त थाना मोबाइल, सेक्टर पुलिस मोबाइल एवं जोनल पुलिस मोबाइल भी भ्रमणशील रहेगे और छोडी से छोडी गतिविधियों पर भी नजर रखेगे। निष्पक्ष चुनाव कराया जाना हमारी शीर्ष प्राथमिकता है। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरीशचन्द्र, एसपी सिटी, एसपी ट्रैफिक, समस्त एसडीएम, समस्त क्षेत्राधिकारी पुलिस एवं थानाध्यक्ष तथा अन्य सम्बन्धित प्रशासनिक अधिकारीगण उपस्थित थे।

Share it
Top