रूपये के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में की गई थी भट्टा मालिक जितेन्द्र की हत्या

रूपये के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में की गई थी भट्टा मालिक जितेन्द्र की हत्या

मुजफ्फरनगर। भोपा थाना क्षेत्रा में 20 दिन पूर्व भट्टा मालिक जितेन्द्र सिंह की हत्या में उसके साझीदार व ड्राईवर को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। जितेन्द्र की हत्या का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि रूपये के लेनदेन को लेकर हुए विवाद में हत्या हुई थी। पुलिस लाईन के सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुए एसपी देहात अजय सहदेव ने बताया कि भोपा थानाक्षेत्र में लगभग 20 दिन पूर्व भट्टा मालिक जितेन्द्र पुत्र त्रिपाल निवासी वजीराबाद की हत्या उसके ही साझीदार व ड्राईवर ने मिलकर की थी। हत्या में प्रयुक्त 32 बोर का देशी तमंचा भी बरामद किया गया है। एसपी देहात अजय सहदेव ने बताया कि जितेन्द्र और सुरेन्द्र एक गाडी में साझीदार भी थे और दोनों में रूपये के लेनदेन को लेकर विवाद हो गया था। इसी विवाद के चलते सुरेन्द्र ने 32 बोर के देशी तमंचे से गोली मारकर भट्टा मालिक जितेन्द्र सिंह की हत्या कर दी थी, जिसकी लाश जंगल में पडी हुई मिली थी। भोपा थानाध्यक्ष विजय सिंह ने पुलिस टीम के साथ सुरेन्द्र उर्फ सूबे सिंह पुत्र निहाल सिंह निवासी महमूदपुरा थाना नागल जनपद बिजनौर को वजीराबाद के जंगल से गिरफ्तार किया।

Share it
Top