'उठा-पटक तो चलती ही रहती है...पूर्व विधायक जिलाध्यक्ष सहित पहुंची नामांकन वापस करने

उठा-पटक तो चलती ही रहती है...पूर्व विधायक जिलाध्यक्ष सहित पहुंची नामांकन वापस करने

मुजफ्फरनगर। गुरूवार को पार्टी के सांसद, विधायक व जिलाध्यक्ष के मनाने पर अपना नामांकन वापस लेने पर राजी पूर्व विधायक कलेक्ट्रेट परिसर स्थित नामांकन कक्ष पर आयीं। इस दौरान उन्होंने अपने बैक टू पैवेलियन के निर्णय को लेकर कहा कि यह पार्टी के हित में लिया गया निर्णय है। पैसे लेकर टिकट देने को उन्होंने सिरे से ही खारिज कर दिया। इस मौके पर उपस्थित अन्य नेताओं ने कहा कि जब घर में बर्तन हो, तो खड़कंेगे ही, घर में तो उठक-पठक चलती ही रहती है। नामांकन वापसी को लेकर चुनाव अधिकारी द्वारा बताया गया कि नियमानुसार नामांकन वापसी तय तिथि पर ही होगी। इससे पूर्व नहीं।
पूर्व विधायक दोपहर तीन बजे के करीब जिलाध्यक्ष रूपेंद्र सैनी के साथ अपना नामांकन वापस करने के लिए नामांकन कक्ष आयी थीं। इस दौरान उन्होंने मीडिया से बातचीत में उनके बैक टू पैवेलियन के निर्णय को लेकर कहा कि उनके लिए पार्टी हाईकमान का आदेश सिर माथे है। उनका कहना था कि नाराजगी थी, लेकिन मनाने पर वह मान गयीं। इस दौरान जिलाध्यक्ष ने कहा कि पार्टी हाईकमान के आदेश पर ही जनपद में स्थानीन निकाय चुनाव में कमल को खिलाया जाएगा। सभी रूठों को मना लिया जाएगा। बाहरी प्रत्याशी के सवाल पर कहा कि अरविंदराज शर्मा पहले भाजपा में ही थे, जिसके बाद वह 2012 मंे बसपा मंे चले गये थे, लेकिन पिफर वह वापस पार्टी में आ गये। वह बाहरी नहीं हैं, उनकी पत्नी के पार्टी के कार्यकर्ता न होने के सवाल पर जिलाध्यक्ष ने कहा कि महिला सीट होने के चलते अरविंदराज शर्मा की पत्नी को टिकट दिया गया। चुनाव अधिकारी वैभव मिश्रा ने नामांकन वापस करने के संबंध में बताया कि नामांकन वापसी की तिथि कल (आज) है और नामांकन वापस तय तिथि पर ही नियमानुसार वापस हो सकता है। इससे पूर्व कतई नहीं। जिसके उपरांत सभी वहां से चले गये। इस दौरान जिलाध्यक्ष रूपेंद्र सैनी, सुशीला अग्रवाल, महेशो चौधरी, रेणु गर्ग आदि भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Share it
Top