दिग्गजों ने अंतिम दिन ठोंकी अपनी ताल...मिथलेश पाल, अंजू अग्रवाल, सुधाराज, शबनम परवीन, सुशीला अग्रवाल व सरिता अरोरा ने किया नामांकन

मुजफ्फरनगर। नामांकन प्रक्रिया के अंतिम दिन आज सभी प्रमुख पार्टियों समाजवादी पार्टी, भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रीय लोकदल सहित निर्दलीयों के द्वारा नामांकन दाखिल करके अपनी-अपनी दावेदारी नगर पालिका के चेयरमैन पद को लेकर की गयी। जिसके चलते अब मैदान में आठ उम्मीदवार आ गये हैं। इसमें से कितने टिक पाएंगे, यह तो कल;आजद्ध होने वाली नामांकन पत्रांे की समीक्षा के बाद ही पता चल पाएगा। इसके बाद दस नवंबर को नाम वापसी का दिन होगा। इस दिन यह पता चल जाएगा कि अब चुनावी समर मे कितने योद्धा रहे गये हैं। आज की मुख्य बात यह रही कि भारतीय जनता पार्टी के दो प्रमुख नेताओं के द्वारा पार्टी से बगावत करते हुए अपना नामांकन पत्र निर्दलीय के तौर पर दाखिल कराया गया है। इसको लेकर सूत्रों का कहना था कि इसमें से एक के द्वारा नामांकन पत्र वापस लिया जा सकता है। प्रमुख पार्टियों के प्रत्याशियों ने अपने परिजनों व भारी संख्या मंे आये समर्थकों के सानिध्य में अपना नामांकन किया।
नगरीय निकाय चुनाव की नामांकन प्रक्रिया का मंगलवार को अंतिम चरण था। आज सभी प्रमुख पार्टियों सहित अन्य छोटे दलों सहित निर्दलीयों के द्वारा अपनी पूरी ताकत को झोंका गया। आज चेयरमैन पद को लेकर आठ के द्वारा अपना नामांकन दाखिल कराया गया। जिसमंे भाजपा व बसपा के प्रत्याशियों के द्वारा पुनः अपना नामांकन पत्रा दाखिल कराया गया। समाजवादी पार्टी की ओर से प्रत्याशी मिथलेश पाल जिलाध्यक्ष गौरव स्वरूप, मुकेश चौधरी सहित अन्य बड़े नेताओं के साथ नामांकन दाखिल करने आयीं। कांग्रेस की प्रत्याशी अंजू अग्रवाल पूर्व चेयरमैन पंकज अग्रवाल, नगराध्यक्ष सतीश गर्ग, जिलाध्यक्ष नानूमियां, पूर्व विधायक सोमांश प्रकाश आदि के साथ नामांकन पत्रा दाखिल करने आयीं। राष्ट्रीय लोकदल की प्रत्याशी शबनम परवीन भी जिलाध्यक्ष अजीत राठी, डा. मुर्तजा सलमानी, अभिषेक चौधरी आदि के साथ नामांकन पत्रा दाखिल करने आयीं। वहीं दूसरी ओर भारतीय जनता पार्टी की प्रत्याशी सुधाराज शर्मा के द्वारा पुनः अपने नामांकन के तीन सैट दाखिल कराये गये। उन्होंने सोमवार को भी नामांकन किया था। वहीं बसपा की प्रत्याशी मुदस्सिरजहंा के द्वारा भी आज पिफर से अपना नामांकन पत्रा दाखिल कराया गया। इसके अलावा भाजपा से बगावत करने वाली पूर्व विधायक सुशीला अग्रवाल व सरिता अरोरा के द्वारा भी अपना-अपना नामांकन बतौर निर्दलीय प्रत्याशी दाखिल कराया। इसके अलावा गीतांजलि ने अखिल भारतीय हिंदू महासभा की ओर से नामांकन दाखिल किया। जिसके चलते कुल आठ प्रत्याशियों के द्वारा 14 नामांकन पत्रों को दाखिल कराया गया।
वहीं दूसरी ओर नामांकन दाखिल कराने में सदस्य पद के प्रत्याशियों का अभियान जारी रहा। नामांकन के सातवें व अंतिम दिन नामांकन पत्रों की लेनदारी व देनदारी जोरशोर से जारी रही, जो कि इस प्रकार से रही अध्यक्ष पद के लिए न्यायालय नगर मजिस्ट्रेट मुजफ्फरनगर में आठ लोगों के द्वारा नामांकन पत्रों को जमा कराया गया। सदस्य को लेकर वार्ड एक से लेकर छह तक न्यायालय उप संचालक चकबंदी में केवल 6 नामांकन पत्र लिये गये, दाखिल 43 ने किया, जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या हो गयी 55। इसमें भाजपा प्रत्याशी के रूप में वार्ड नम्बर 1 से श्रीमति पार्वती सिद्धार्थ पत्नी राजकुमार सिद्धार्थ, 2 से श्रीमति दीपमाला पत्नी नरेश कुमार, 3 से श्रीमति पिंकी पत्नी लक्ष्मण सिंह, 4 से पंकज जौहरी, 5 से कुलदीप, 6 से श्रीमति कविता सैनी पत्नी संजय सैनी, 7 से नवनीत कुच्छल, 8 से कृष्णपाल पुत्र खेमचन्द पाल, 9 से श्रीमति साक्षी चुग्घ पत्नी विवेकराज चुग्घ, 10 से श्रीमति आरती तोमर, 11 जोगेन्द्र कुमार गोयल, 12 से नरेश गुप्ता, 13 से प्रमोद भारती, 14 से हनी पाल, 15 से श्रीमति ममता त्यागी पत्नी डॉ. राकेश त्यागी, 16 से श्रीमति उमा देवी पत्नी भीष्म धीमान, 17 से कंवरपाल वर्मा, 18 से श्रीमति रानी शर्मा पत्नी संजय सक्सैना, 19 से प्रियांशु जैन पुत्रा नवीन कुमार जैन, 20 से पवन कुमार पुत्र सोहनवीर सिंह, 21 से श्रीमति रामदुलारी मित्तल पत्नी मेघराज, 22 से श्रीमति जुलेखां पत्नी रफीक अहमद, 23 से योगेश मित्तल, 24 से विकास गुप्ता, 25 से सुनील शर्मा, 26 से मनीष चन्देल पुत्र कदम सिंह पाल, 27 से श्रीमति सपना मलिक पत्नी मोहित मलिक, 28 से ठा. बोबी सिंह पुत्रा धीर सिंह, 29 से प्रेमी छाबडा, 30 से चरण सिंह पुत्र श्यामलाल, 31 से श्रीपाल शर्मा पुत्रा शिवचरण शर्मा, 32 से विपुल भटनागर पुत्र डॉ. विश्वनाथ सहाय भटनागर, 33 से श्रीमति कुसुमलता पाल पत्नी बिजेन्द्रपाल, 34 से विवेक गर्ग, 35 से संजीव कुमार कश्यप पुत्र राजपाल सिंह, 36 से अब्दुल कयूम, 38 से अमित बोबी, 41 से रोहित तायल, 42 से मौ. सलीम पुत्र मौहम्मद रसीद, 43 से मनोज वर्मा पुत्र सुखबीर सिंह वर्मा ने नामांकन दाखिल किया।
वार्ड सात से लेकर 12 तक न्यायालय उप संचालक चकबंदी में 8 नामांकन लिये गये व दाखिल 29 ने किये। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 44 हो गयी। वार्ड 13 से लेकर 17 तक न्यायालय उप संचालक चकबंदी में 9 नामांकन पत्र लिये गये व दाखिल 29 ने किये। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 45 हो गयी। वार्ड 18 से लेकर 23 तक न्यायालय उप जिलाधिकारी सदर में 11 नामांकन पत्रा लिये गये व दाखिल 28 ने किये। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 60 हो गयी। वार्ड 18 से बबीता शर्मा ने नामांकन किया। वार्ड 24 से 28 तक न्यायालय उप जिलाधिकारी सदर में 6 नामांकन पत्र लिये गये, दाखिल 29 ने किये।जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 44 हो गयी। वार्ड 29 से लेकर 34 तक न्यायालय उप जिलाधिकारी सदर में 4 नामांकन पत्र लिये गये व दाखिल 22 ने किये। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 48 हो गयी। वार्ड 32 से संदीप कुमार ने नामांकन किया। इसी वार्ड से विपुल भटनागर ने किया। वार्ड 35 से लेकर 40 तक न्यायालय अपर जिलाधिकारी प्रशासन में 9 नामांकन पत्रा लिये गये व दाखिल 36 ने किया। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 67 हो गयी। वहीं दूसरी ओर वार्ड 41 से लेकर 45 तक न्यायालय अपर जिलाधिकारी प्रशासन में 6 नामांकन पत्रों को लिया गया व दाखिल 36 ने किया,जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 53 हो गयी। इसमें वार्ड 41 से रूचि मित्तल ने सपा के टिकट पर, 43 से मनोज वर्मा ने व 45 से मेहराना ने नामांकन किया व वार्ड 46 से लेकर 50 तक न्यायालय अपर जिलाधिकारी प्रशासन के कक्ष से 2 नामांकनपत्रों को लिया गया व दाखिल 35 ने किये। जिसके चलते इस वार्ड मंे नामांकन दाखिल करने वालों की संख्या 50 हो गयी। इस प्रकार से अध्यक्ष पद को लेकर कुल 14 नामांकन व सदस्य पद को 287 नामांकन पत्र जमा किये गये। अंतिम दिन पूरी नामांकन प्रक्रिया कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के मध्य संपन्न करायी गयी।

Share it
Top