चुनावी समय में पार्टियों के विद्रोह पर हुआ मंथन

चुनावी समय में पार्टियों के विद्रोह पर हुआ मंथन

मुजफ्फरनगर। नगर के प्रमुख चिकित्सक एवं सामाजिक कार्यकर्ता वर्ष 1977-78 में जनता पार्टी के शासन के दौरान श्रीमति इन्दिरा गांधी के साथ व समर्थन में जेल में बंदी रहे डॉ. ओमपाल सिंह वर्मा (सिसौली वाले) के निवास पर एक आकस्मिक बैठक जयचन्द सिंह की अध्यक्षता व संचालन डॉ. ओमपाल सिंह ने किया। बैठक में कांग्रेस पार्टी के जेलयात्रियों व समर्थकों ने हिस्सा लिया। बैठक में वर्तमान में पार्टी के गम्भीर हालात पर विचार किया। डॉ. ओमपाल सिंह ने कहा कि श्रीमति इन्दिरा गांधी व राजीव गांधी की हत्या के बाद पार्टी के जिम्मेदारों की सोच व दिशा ही बदल गई तथा लगातार देश-प्रदेश में पार्टी का ग्राफ गिरता गया। उन्होंने कहा कि गत वर्ष 4 अक्टूबर को कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी के मुजफ्फरनगर में शामली रोड पर रोड शो हुआ था। डॉ. ओमपाल सिंह ने शामली रोड पर अपने क्लीनिक के बाहर राहुल गांधी को रोककर एक सुझाव पत्र राहुल गांधी को दिया था तथा मौखिक रूप से भी कहा था कि क्यों पार्टी 27 साल से बेहाल है, जिसे उन्होंने लेकर कहा था कि इस पर विचार होगा, लेकिन उन्होंने कोई विचार नहीं किया। गत वर्ष उ.प्र. विधानसभा चुनाव से पूर्व प्रशान्त कुमार द्वारा पार्टी की घाट सभा हुई, सभा के बाद घाट की छीना झपटी हुई तथा पार्टी की किरकिरी भी हुई। डॉ. सिंह ने बताया कि वह श्रीमति इन्दिरा गांधी व संजय गांधी के साथ कई बार जेल गये तथा स्वतंत्रता संग्राम सेनानी परिवार से है। इन हालात को देखते हुए उन्होंने दो दिन पूर्व पार्टी के जेलयात्री पूर्व विधायक सोमांश प्रकाश से भी विचार किया, तो वह भी हालात से दुखी है, दो दिन पूर्व लखनउ में चुनाव टिकट पर मारपीट हुई, गत दिवस भी नगर सीट में चुनाव टिकट ठीक न दिये जाने पर जिलाध्यक्ष नानूमियां ने कहा कि जब नाम ही पैनल में नहीं था, तो खिन्न होकर इस्तीपफा दे दिया। इस अवसर पर सभी ने एक मत होकर कहा कि शीघ्र ही डॉ. सिंह के नेतृत्व में दिल्ली जाकर राहुल गांधी व सोनिया गांधी से मिलेंगे। इस अवसर पर जयचन्द सिंह, विनोद धीमान, ब्रहमजीत सिंह, विकास कुमार, ओमवीर कश्यप, अंकित भारती, राहुल वर्मा, ओमप्रकाश, कंवर सैन, राजपाल सिंह, विनोद कुमार, विरेन्द्र कुमार, शिवकुमार वर्मा, महेशचन्द, नरेश कुमार, संजय तोमर, शिवचरण शर्मा, भोपाल सम्मिलित हुए।

Share it
Top