मुठभेड में घायल बदमाश के परिजनों ने किया हंगामा

मुजफ्फरनगर। लगातार चार दिन की खामोशी के बाद जनपद पुलिस ने आज एक बदमाश को मुठभेड के दौरान लंगडा कर दिया, लेकिन घायल बदमाश के परिजनों ने मुठभेड को फर्जी बताकर शिवचौक पर घंटों हंगामा किया। मुठभेड में गोली लगने से 20 हजार का इनामी बदमाश वसीम घायल हुआ है, जिसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, जबकि उसका साथी भागने में सफल हो गया। मुठभेड में एक दरोगा को भी गोली लगी है। जानकारी के अनुसार शहर कोतवाली क्षेत्र के मौहल्ला किदवई नगर निवासी 20 हजार के इनामी बदमाश वसीम व उसके साथी की बुढाना मोड पर पुलिस से जबरदस्त मुठभेड हो गयी। एसपी सिटी ओमबीर सिंह के नेतृत्व में शहर कोतवाल संजीव शर्मा, बुढाना कोतवाल चमन सिंह चावडा, खतौली कोतवाल पीपी सिंह, खालापार चौकी प्रभारी राकेश शर्मा, शैलेन्द्र शौलंकी समेत भारी पुलिस बल शामिल रहा। बताया जा रहा है कि 20 हजार का इनामी बदमाश वसीम गोली लगने से घायल हो गया, जबकि उसका साथी अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गया, जिसकी तलाश में काम्बिंग जारी है। बताया जा रहा है कि वसीम कई मामलों में वांछित चल रहा था। पुलिस ने घायल बदमाश व दरोगा को जिला चिकित्सालय में भर्ती करा दिया है। मुठभेड की जानकारी मिलते ही घायल बदमाश वसीम के परिजन शिव चौक पर पहुंचे और उन्होंने मुठभेड को पफजी बताकर हंगामा करना शुरू कर दिया। परिजनों का कहना था कि वसीम को घर से उठाया गया है और पुलिस ने फर्जी मुठभेड में उसे गोली मारी है। हंगामा होने की सूचना पर एसपी सिटी शिव चौक पर पहुंचे और हंगामा कर रहे परिजनों को समझाया। खतौली कोतवाली पीपी सिंह व बुढाना कोतवाल चमन सिंह चावडा ने भी बामुश्किल घायल बदमाश वसीम के परिजनों को समझा बुझाकर शांत कराया। इसके बाद वसीम के परिजन जिला चिकित्सालय पहुंचे और उन्होंने पुलिस मुठभेड को लेकर मानवाध्कर आयोग में भी शिकायत करने की बात कही है। परिजनों ने पुलिस के विरूद्ध कार्यवाही की धमकी दी। घायल बदमाश की मां श्रीमती खुशीदा पत्नी ननवा ने 20 दिन पहले ही एसएसपी को प्रार्थना पत्र देकर आंशका जता दी थी कि कुछ लोग रंजिशन उसके पुत्र को फर्जी मामलों मंे फंसा सकते है। घायल बदमाश के परिजनों का आरोप है कि उनके विरोधियों ने पुलिस से मिलीभगत कर वसीम को पफर्जी मुठभेड़ में गिरफ्तार कराया है।

Share it
Top