गंगास्नान मेले में उपद्रव की साजिश...शरारती तत्वों ने शुक्रताल में तोडी डॉ. अम्बेडकर की प्रतिमा, जमकर हंगामां

भोपा। संविधान निर्माता दलित मसीहा बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की प्रतिमा पर लाठी-डण्डों से वार कर खण्डित कर दिया गया, जिससे गंगा स्नान मेले के दौरान उपद्रव होते-होते बच गया। गुस्साए दलित समाज द्वारा सरकार व प्रशासन के विरूद्ध प्रदर्शन करते हुए शीघ्र दोषियों को गिरफ्तार करने व दोबारा प्रतिमा स्थापित करने की मांग की। पुलिस ने मामले में शीघ्र कार्यवाही का आश्वासन देकर दलित समाज के लोगों को शान्त किया। मौके पर पहुंचे एसपी देहात अजय सहदेव ने जांच कर शीघ्र ही आरोपियांे पर कार्यवाही करने का आश्वासन दिया है।
थाना भोपा क्षेत्र के शुक्रताल स्थित संत शिरोमणि रविदास आश्रम के बाहर स्थापित चौक पर लगी बाबा साहेब की प्रतिमा को सवेरे लगभग 3 बजे दो युवकों द्वारा खण्डित कर दिया गया। प्रतिमा को तोडने के उपरान्त युवक भाग खडे हुए बताये जाते हैं। प्रतिमा के खण्डित हो जाने का समाचार पाकर दलित समाज के सैंकडों लोगों ने शासन प्रशासन के विरूद्ध जमकर नारेबाजी करते हुए देश-प्रदेश की भाजपा सरकार पर दलितों के साथ भारी शोषण व अन्याय के गम्भीर आरोप लगाये। पूर्व विधायक अनिल कुमार, बसपा नेता शिवान सैनी, बसपा जिला प्रभारी संजय रवि, गुरू सत्यानन्द महाराज, नरेश गौतम, ब्रहमसिंह नरखरिया ने घटना पर भारी रोष प्रकट करते हुए आरोपियों की शीघ्र गिरफ्रतारी की मांग तथा प्रशासन द्वारा दलितों का उत्पीडन न रोकने पर दलित सडकों पर आकर बडा आन्दोलन करने पर मजबूर होंगे, जिसके परिणाम घातक होंगे। घटना को लेकर रविदास मन्दिर के सेवादास गुरू लोकदास महाराज द्वारा अज्ञात के विरूद्ध थाना भोपा पुलिस को तहरीर दी गयी है। इस मौके पर जनेश्वर, योगानन्द महाराज, सेवानन्द महाराज, करूणानन्द महाराज, मंगलानन्द महाराज, देवेन्द्र, बाबूराम, रतनसिंह, नवीन तेजीयान, मनोज कुमार, सोनू, बाबराज, टिपिन कुमार, सतवीर, राजपाल, नरेश अजीत, प्रवेन्द्र, अमित, पंकज तेजीयान, प्रेमसिंह, रामपाल प्रधान, सुनील कटारिया, गौरव, सनसपाल आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top