धारदार हथियारों से काटे बछडे के कान, ग्रामीणों में आक्रोश

धारदार हथियारों से काटे बछडे के कान, ग्रामीणों में आक्रोश

मुजफ्फरनगर। पीनना गांव के जंगल में एक गाय के बछड़े को धारदार हथियार से कान काटकर अलग कर दिया गया। मरने की हालत में गाय के बछड़े को देखकर लोगों को बड़ा दुख हुआ। तत्काल सरकारी डॉक्टर बघरा से जितेंद्र कुमार को बुलाया गया और बछड़े को इंजेक्शन लगवा कर पट्टी बंधवाकर दवाई लगाकर ट्रीटमेंट किया गया। यह बहुत ही दुख की बात है कि गाय के बछड़ों के साथ कसाइयों के द्वारा की गई दर्दनाक घटना को अंजाम दिया गया। उनका मकसद है कि कान काटकर अलग कर दिया जाए। कुछ समय बाद पशु के मस्तिष्क में कीड़े लग जायेंगे और उसकी मृत्यु हो जाएगी। उसके बाद चुपचाप उसको उठाकर ले जाने की योजना बनाने काम करते हैं। किसानों ने पहुंच कर देखा और मलहम पट्टी बंधवाने का काम किया। जिला अध्यक्ष सुमित मलिक राष्ट्रीय किसान मजदूर संगठन ने पहुंचकर गाय के बछड़े का हाल जाना। इस घटना को देखकर मौजूद किसान गौरव मलिक, विक्की मलिक, बिट्टू मलिक, मानसिंह, ब्रहमपाल, सत्यवीर, कालूराम आदि किसानों ने मौके पर पहुंचकर दुख प्रकट किया। सुमित मलिक ने कहा यदि ऐसी घटना दोबारा हुई, तो घटना को अंजाम देने वाले व्यक्ति को पकड़ा जाएगा और पुलिस के हवाले किया जाएगा।

Share it
Top