राजनैतिक दलों का पढ़ाया आचार संहिता का पाठ...मतदान प्रतिशत बढाने के लिए मतदाता जागरूकता अभियान चलाया जायेगा

राजनैतिक दलों का पढ़ाया आचार संहिता का पाठ...मतदान प्रतिशत बढाने के लिए मतदाता जागरूकता अभियान चलाया जायेगा

मुजफ्फरनगर। जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी ने राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों/प्रतिनिधियों से कहा कि नगरीय निकाय निर्वाचन सम्पन्न कराने के लिए 190 वार्ड बनाये गये हैं। मतदान केन्द्रंांे की संख्या 156 तथा मतदान स्थलों की संख्या 549 होगी। कुल 13 जोन और 41 सैक्टर बनाये गये हैं। नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायत चुनाव में कुल 457959 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। उन्हांेने सभी राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों/प्रतिनिधियों से कहा कि नगरीय निकाय चुनावों में आदर्श आचार संहिता का पूर्णतया पालन करें। आचार संहिता का पालन न करने पर निर्वाचन की सुसंगत धाराओं मेें कार्यवाही की जायेगी।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी जीएस प्रियदर्शी आज यहां कलेक्ट्रेट स्थित लोकवाणी सभागार में सभी राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों/प्रतिनिधियों के साथ आदर्श आचार संहिता का पालन कराये जाने के सम्बन्ध में आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि तहसील स्तर पर भी एसडीएम एवं क्षेत्राधिकारी निर्भीक, निष्पक्ष एवं पारदर्शी नगरीय निकाय चुनाव सम्पन्न कराने के लिए राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियांे/पदाधिकारियों के साथ बैठक करना सुनिश्चित करे। कल से नोमिनेशन प्रारम्भ हो जायेगा। आयोग द्वारा मोबाईल एप विकसित किया गया है, उसमें निर्वाचन सम्बन्धी सभी सूचनाएं उपलब्ध हैं। निर्देश दिये कि नो-ड्यूज उपलब्ध कराने में किसी उम्मीदवार को उत्पीडन अथवा उगाही न की जाये। निर्वाचन से जुडे़ सभी रिटर्निंग एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारियों को आई कार्ड निर्गत करने के भी निर्देश दिये।
जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी ने सभी राजनैतिक दलों, उम्मीदवारों एवं उनके प्रतिनिधियों से निर्वाचन के दौरान आदर्श आचार संहिता का कडाई से पालन करने के लिए कहा। कहा कि ऐसा कोई कार्य लिखकर, बोलकर अथवा किसी प्रतीक के माध्यम से नहीं करंेेगे, जिससे किसी धर्म, सम्प्रदाय, जाति एवं राजनैतिक दल, उम्मीदवार आदि की भावनायें आहत हांे या ऐसा कोई कार्य नहीं करेंगे जिससे तनाव की स्थिति उत्पन्न हेा। मत प्राप्त करने के लिए जाति, सम्प्रदायिक और धार्मिक भावना का परोक्ष या अपरोक्ष रूप से सहारा नहीं लिया जायेगा। सभी राजनैतिक दल/उम्मीदवार यह भी सुनिश्चित करेेंगे कि पूजा स्थलों जैसे मंदिर, मस्जिद, गुरूद्वारा, गिरजाघर आदि का उपयोग चुनाव प्रचार अथवा चुनाव कार्यो के लिए नहीं होगा। मतदाताओं केा प्रलोभन देकर या डरा धमका कर अपने पक्ष में मत देने के लिए प्रभावित करने से बचें तथा मतदाताआंे को प्रभावित करने के लिए किसी प्रकार के मादक पदार्थो को वितरण भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन माना जायेगा।
चुनाव प्रचार हेतु किसी व्यक्ति की भूमि/भवन, दीवार का उपयोग झण्डा, बैनर आदि लगाने के लिए बिना उसकी लिखित अनुमति के नहीं किया जायेगा। उन्हांेने कहा कि शासकीय सरकारी इमारतों अथवा सरकारी सम्पत्ति पर कोई झण्डा, बैनर एवं दीवार लेखन आदि किसी भी दशा में न की जाये। किसी भी शासकीय/सार्वजनिक सम्पत्ति/परिसर पर विज्ञापन/वॉल राईटिंग नहीं की जा सकेगी। लाउड स्पीकर एवं साउण्ड बॉक्स का प्रयोग पूर्वानुमति प्राप्त करके ही किया जा सकेगा और रात्रि 10 बजे से प्रातः 6 बजे तक प्रतिबंधित रहेगा। कोई भी मुद्रक या प्रकाशक या कोई व्यक्ति ऐसी कोई निर्वाचन/प्रचार सामग्री जिसके मुखपृष्ठ पर उसके मुद्रक या प्रकाशक का नाम और पता न हो मुद्रित या प्रकाशित नही करेगा।
सभा रैली/जुलूस का आयोजन पूर्वानुमति प्राप्त कर ही किया जाये। यह भी ध्यान रखा जायेगा कि इससे यातायात बाधित न हो। उन्होंने कहा कि जुलूस, सभाओं या रैलियों में जिला प्रशासन द्वारा दृढ प्रक्रिया की संहिता की धारा 144 के अन्तर्गत प्रतिबंधित अस्लेह/लाठी डण्डे लेकर नहीं चलेंगे। मतदान से 48 घण्टे पूर्व सार्वजनिक सभा व चुनाव प्रचार बन्द कर दिया जायेगा। उन्हांेने कहा कि राजनैतिक प्रचार-प्रसार और रैलियों हेतु शैक्षणिक संस्थाओं, सरकारी सहायता प्राप्त, निजी अथवा सरकारी संस्था के प्रांगण आदि के उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंद होगा।
उन्हांेने कहा कि उम्मीदवार के नाम निर्देशन पत्रा पर एक प्रस्तावक के हस्ताक्षर हांेगे एवं उम्मीदवार तथा प्रस्तावक का एक एक पफोटो भी चस्पा किया जायेगा। उन्होंने ने कहा कि नाम निर्देशन पत्रा के साथ सम्बन्धित निकाय के एक वर्ष से अधिक अवधि के बकाये की देनदारी को नो डयूज तथा उम्मीदवार जिस कक्ष का निर्वाचक है, उससे भिन्न कक्ष से निर्वाचन लडने पर उम्मीदवार को निर्वाचक नामावली के सुसंगत प्रविष्टियों की प्रमाणित प्रतिलिपि तथा यदि वह आरश्रित श्रेणी का है तो उसे अपना जाति प्रमाण पत्रा प्रस्तुत करना होगा।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरीश चन्द्र, सिटी मजिस्ट्रेट वैभव मिश्रा, समस्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि/पदाधिकारी उपस्थित रहे।

Share it
Top