आचार संहिता लगते ही पालिका प्रशासन आया एक्टिव मोड पर

आचार संहिता लगते ही पालिका प्रशासन आया एक्टिव मोड पर

मुजफ्फरनगर। शासन स्तर से शीघ्र होने वाले स्थानीय निकाय चुनावों को लेकर हरी झंडी मिल गयी है अर्थात अधिसूचना जारी कर दी गयी है। चुनाव तीन चरणों में कराये जाएंगे। पहला चरण 22 नवंबर को, दूसरा चरण 26 नवंबर को तथा तीसरा चरण 29 नवंबर को होगा। मतगणना एक दिसंबर को होगी। जनपद मुजफ्फरनगर के मतदाता अपने मत का प्रयोग स्थानीय निकाय चुनाव में दूसरे चरण अर्थात 26 नवंबर को करेंगे। आचार संहिता लगते ही नगर पालिका परिषद मुजफ्फरनगर हरकत में आ गया। उसने पालिका अधिशासी अधिकारी के नेतृत्व में नगर के मुख्य चौराहों पर लगे फलैक्सी, होर्डिंग्स व पोस्टरों पर अपना डंडा चलाया। स्थानीय निकाय चुनाव को लेकर शासन स्तर से आचार संहिता की विधिवत् घोषणा क्या की गयी, नगर पालिका प्रशासन पूरी तरह से एक्टिव मोड पर आ गया। रात्रि में साढ़े सात बजे पालिका के अधिशासी अधिकारी विकास सैन के नेतृत्व में पालिका के अधिकारियों व कर्मचारियों का लाव-लश्कर सड़क पर निकल पड़ा। निशाना थे नगर में जगह-जगह पर कुकुरमुत्तों की भांति लगे अवैध् पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स व फलेैक्सी बोर्ड आदि। इससे पहले अधिशासी अधिकारी विकास सैन ने अपने अधिनस्थ सभी अधिकारियों व कर्मचारियों की एक अति आवश्यक बैठक ली। जिसमें उक्त कार्यवाही को लेकर रणनीति बनायी गयी। इसके तहत सबसे पहले टीम ने मीनाक्षी चौक पर अपनी कार्यवाही, इसके अलाव शिवचौक, झांसी की रानी सहित नगर के मुख्य चौराहों पर यह कार्यवाही अवैध् पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स व फलेैक्सी बोर्ड हटाने को लेकर की गयी। इस बारे में अधिशासी अधिकारी विकास सैन का कहना था कि आचार संहिता का शत-प्रतिशत पालन कराया जाएगा। इसका उल्लंघन करने वालोें को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि यदि हटाने के उपरांत किसी ने पिफर से अवैध् पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स व पफलेैक्सी बोर्ड आदि लगवाये, तो दंडनीय मानते हुए जुर्माना लगाया जाएगा। वहीं उन्होंने बताया कि अवैध् पोस्टर, बैनर, होर्डिंग्स व फलेैक्सी बोर्ड आदि पर निगाहें रखने को लेकर पालिका कर्मचारियों की अलग-अलग टीमें बनायी गयी है। आज की कार्यवाही में ईओ के साथ ओमवीर सिंह, तनवीर आलम सहित पालिका के कर्मचारी शामिल रहे।

Share it
Top