गृहक्लेश में महिला ने खाया जहर, उपचार के दौरान मौत

गृहक्लेश में महिला ने खाया जहर, उपचार के दौरान मौत

मंसूरपुर। गांव जड़ौदा निवासी 40 वर्षीय भूरी पत्नी इमरान ने ग्रह कलेश के चलते बुधवार की देर रात जहर का सेवन कर लिया था, जिसे परिजन बेगराजपुर मैडिकल में लेकर चले गए थे, जहां पर उपचार के दौरान भूरी की मौत हो गई। मौत होने के बाद परिजनों ने हंगामा किया और डॉक्टर सपफीक पर लापरवाही करने का आरोप लगाया और कहा कि हमने पहले ही कहा था कि इसे मेरठ रैपफर कर दो, मगर डॉक्टर ने रैफर नहीं की। उधर डॉक्टर ने आरोप लगाया कि परिजन झूठ बोल रहे हैं मैंने पहले ही कहा था कि मरीज की हालत सीरियस है, इसे कहीं और दिखा लो, मगर परिजनों ने कहा था कि अगर ठीक होनी होगी, तो यहीं पर हो जाएगी। बाद में मृतका के परिजनों ने डेडबॉडी मांगी, तो डॉक्टर ने कहा कि यह पुलिस केस है। पुलिस के आने के बाद ही शव परिजनों को सौंपा जाएगा। इसके बाद पुलिस चौकी बेगराजपुर से दो सिपाही मैडिकल में पहुंचे और पफोन पर डॉक्टर व चौकी इंचार्ज आरके शर्मा की डॉक्टर से बात कराई। डॉक्टर ने आरोप लगाया कि चौकी इंचार्ज ने उनके साथ पफोन पर अभद्र व्यवहार किया है, जबकि चौकी इंचार्ज का कहना है कि डॉक्टर ने उनके साथ गलत भाषा का प्रयोग किया है। चौकी इंचार्ज आरके शर्मा ने बताया कि मृतका के परिजनों ने डॉक्टर के खिलापफ लिखित में तहरीर दी है। उच्चाधिकारियों के आदेश पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Share it
Top