पुलिस स्मृति दिवस पर किया शहीदों को याद... एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर दी सलामी

पुलिस स्मृति दिवस पर किया शहीदों को याद... एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने शहीद स्मारक पर पुष्प चक्र अर्पित कर दी सलामी

मुजफ्फरनगर। पुलिस स्मृति दिवस पर आज पुलिस लाईन में आयोजित शहीदों के कार्यक्रम में एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने मुजफ्फरनगर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों के परिवारों को स्मृति चिन्ह, नकद धनराशि और शॉल ओढाकर सम्मानित करते हुए कहा कि पुलिस विभाग अपने साथियों की शहादत को नमन करता है। इस अवसर पर शहीदों के सम्मान के लिये दो मिनट का मौन भी रखा गया। पुलिस लाईन परिसर में स्थित शहीद स्मारक पर एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने पुष्पचक्र चढाकर शहीदों को सलामी दी। इस अवसर पर एसपी सिटी ओमवीर सिंह, एसपी देहात अजय सहदेव, एसपी क्राईम बी.वी. चौरसिया, सीओ सिटी हरीश भदौरिया, आरआई विरेन्द्र सिंह यादव समेत सभी पुलिस अधिकारी व चौकी प्रभारी तथा पुलिसकर्मी मौजूद रहे। सभी ने शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित कर शहीदों को सलामी दी। इस दौरान शहीदों के परिजन भी कार्यक्रम में शामिल हुए, जिनकी आंखे अपने परिजनों को याद कर नम हो गई। शहीद पुलिसकर्मियों की विधवाओं को स्मृति चिन्ह, नकद धनराशि व शॉल ओढाकर एसएसपी अनन्तदेव तिवारी ने सम्मानित किया। इस मौके पर पुलिसकर्मियों को शपथ भी दिलाई गई। ज्ञातव्य है कि 21 अक्टूबर 1959 को लद्दाख सैक्टर में चीनी सेना के हमले में 10 भारतीय पुलिसकर्मी शहीद हो गये थे, जबकि सात को बंदी बना लिया गया था। इन पुलिसकर्मियों की याद में ही हर साल पुलिस स्मृति दिवस 21 अक्टूबर को मनाया जाता है। इसी रोज हम अपने शहीद जवानों को सलाम करते है। साल 1960 में इस दिन को अधिकारिक दर्जा मिला। साल 2012 से इसे राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाने लगा। देश की आजादी से अब तक 34418 से ज्यादा पुलिसकर्मी देश की सुरक्षा और समाज की सेवा में अपने प्राणों की आहूति दे चुके हैं। लखनउफ में भी आज मुख्यमंत्राी योगी आदित्यनाथ ने पुलिस स्मृति दिवस मनाया और इस मौके पर पुलिस के लिये कई कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की। मुख्यमंत्राी ने शहीदों को मिलने वाली धनराशि भी दोगुनी कर दी।

Share it
Top