जेल में बंद भाईयों को किया बहनों ने तिलक

जेल में बंद भाईयों को किया बहनों ने तिलक

मुजफ्फरनगर। बहन-भाई के अटूट प्यार के प्रतीक भैयादूज के पर्व पर बहनों ने कडी मशक्कत के बाद अपने भाईयों के पास पहुंचकर उन्हें तिलक किया। जिला कारागार में विभिन्न अपराधों में बंद भाईयों को भी तिलक करने के लिये बडी संख्या में उनकी बहने पहुंची। जेल अधीक्षक एके सक्सैना व जेलर अनिल कुमार त्रिपाठी ने जेल में बंद बन्दियों व कैदियों के परिजनों से मुलाकात के लिये आज विशेष तैयारियां कर रखी थी। सुबह से ही बडी संख्या में अपने भाईयों से मिलने के लिये बहनें जिला कारागार पर पहुंच गयी थी। इस दौरान जेल के बाहर लम्बी-लम्बी कतारें लगी रही। जेल के गेट पर तलाशी के बाद जेल के अंदर पहुंची सभी बहनों ने अपने भाईयों को भैयादूज के पर्व के उपलक्ष में तिलक किया और उनकी लम्बी आयु की कामना की। भाईयों ने भी अपनी श्रद्धा के अनुसार उन्हें नकद उपहार भेंट किये। जेल में मिलने आयी बहनों को देखकर भाईयों के चेहरे भी खिल उठे। सुबह 10 बजे से ही जेल में मिलने के लिये बहनों के पहुंचने का क्रम शुरू हो गया था, जो शाम तक जारी रहा। इसी कारण जेल पर भारी गहमा-गहमी रही। इसके अलावा विभिन्न मामलों में कुछ भाईयों की बहनें भी जेल में बंद है। आज भैयादूज के त्यौहार पर ऐसे भाई भी अपनी बहनों से तिलक कराने जेल में पहुंचे, जिनकी बहनें जेल में बंद है। कई भाई-बहन आपस में मिलकर रोने लगे, जिसे देखकर सभी की आंखे नम हो गयी।

Share it
Top