पुरकाजी में किसान ने गला काटकर की आत्महत्या

पुरकाजी में किसान ने गला काटकर की आत्महत्या

पुरकाजी। पुरकाजी में एक किसान ने मानसिक संतुलन व बीमारी के कारण अपनी गर्दन को छूरी से काटकर आत्माहत्या कर ली। परिजनों ने किसान को पुलिस की मदद से पीएचसी में लेकर पहुंचे, जहां पर चिकित्सकों ने जांच पडताल के बाद मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मौके से छूरी बरामद कर मृतक का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम को भेज दिया। किसान की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है। पुरकाजी में एक अजब ही घटना शुक्रवार की प्रातः हुई है। प्रातः करीब 11 बजे पुरकाजी थाने के निकट रहना वाला मौ. सुलेमान पुत्र अशरफ जो कई माह से मानसिक रूप से परेशान था और दौरा पड़ने की बीमारी से ग्रस्त था। घर में रखी छूरी को उठाकर अपनी गर्दन पर चलाना शुरू कर दिया। यह देखकर परिवार के लोगों के होश उड़ गए और शोर मचाते हुए पुलिस को सूचना दी। सूचना पाकर प्रभारी निरीक्षक अंबिका प्रसाद भारद्वाज, कस्बा इंचार्ज संजय त्यागी मय टीम के साथ किसान के घर पर पहुंचे, लेकिन इस बीच किसान ने अपनी गर्दन का छूरी से काट लिया था और खून बहना शुरू हो गया। पुलिस ने मौजूद लोगों की मदद से घायल अवस्था में पडे़ किसान को उठाकर पीएचसी भिजवाया। चिकित्सकों की टीम ने घायल किसान का उपचार शुरू किया, लेकिन किसान तब तक दम तोड़ चुका था और चिकित्सकों ने किसान को मृत घोषित कर दिया। किसान की मौत से परिवार में कोहराम मच गया और उसकी पत्नी समेत बच्चों का रो-रोकर बुरा हाल था। पुलिस ने मृतक किसान के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

Share it
Top