एडीएम ई ने ली राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की चुनाव सम्बन्धी बैठक

एडीएम ई ने ली राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों की चुनाव सम्बन्धी बैठक

मुजफ्फरनगर। मतदेय स्थल के सम्भाजन के सम्बन्ध में संशोधन प्रस्ताव, सुझावोें एवं आपत्तियां एवं विचार-विमर्श हेतु राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों के साथ निर्वाचक/सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी की बैठक का आयोजन अपर जिलाधिकारी प्रशासन/उप जिला निर्वाचन अधिकारी की अध्यक्षता में कलैक्ट्रेट सभागार में किया गया। उप जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि भविष्य में होने वाले लोकसभा/विधानसभा के चुनावों में ईवीएम के साथ साथ वीवी पैट भी परियुक्त की जायेगी। उन्होंने बताया कि आयोग ने 1400 से अधिक मतदाता वाले मतदेय स्थलों को विभाजित करने के निर्देश दिये।
अपर जिलाधिकारी प्रशासन/उप जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा बैठक में उपस्थित मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय/राज्य राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों को आयोग के निर्देशानुसार मतदेय स्थलों की आरेख सूची 9 अक्टूबर को प्रकाशन उपरान्त निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी कार्यालय द्वारा प्राप्त संशोधन प्रस्तावों की एक-एक प्रति उपलब्ध करायी गयी। समस्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों द्वारा सूची पर सहमति व्यक्त की गयी। बैठक में अपर जिलाधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि मतदेय स्थलों के संशोधन प्रस्तावों के सम्बन्ध में यदि कोई आपत्ति/सुझाव हो, तो निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी कार्यालय अथवा जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा उपलब्ध करा सकते है, ताकि प्राप्त सुझावों/आपत्तियों का निस्तारण कर 21 अक्टूबर तक अन्तिम रूप दिया जा सके। उन्होंने बताया कि दिनांक 25 अक्टूबर को मुख्य निर्वाचन अधिकारी कार्यालय को मतदेय स्थलों के संशोधन प्रस्तावों को उपलब्ध करा सकेंगे। इसके अतिरिक्त राजनैतिक दलों को बैठक में नगर निकाय निर्वाचक नामावली के संक्षिप्त पुनरीक्षण के सम्बन्ध मंे भी राजनैतिक दलों के प्रतिनिधियों से विचार-विमर्श किया गया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह ने बताया कि दावे/आपत्तियों के निराकरण के उपरान्त पूरक सूचियों की पाण्डुलिपियों को तैयार तथा उन्हें मूल सूची में यथास्थान समाहित करने की कार्यवाही 17 से 17 अक्टूबर तक पूर्ण कर ली जायेगी और अन्तिम रूप से तैयार निर्वाचक नामावलियों का जनसामान्य के लिए प्रकाशन 18 अक्टूबर को किया जायेगा। बैठक में उप जिलाधिकारी, तहसीलदार सभी मान्यता प्राप्त राजनैतिक दलों के प्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे।

Share it
Top