मंदी के दौर से पीडित दुकानदार परेशान...पुलिस, पालिका व भाजपा नेता शिव चौक के निकट ठिये लगाने वालों से कर रहे हैं वसूली

मंदी के दौर से पीडित दुकानदार परेशान...पुलिस, पालिका व भाजपा नेता शिव चौक के निकट ठिये लगाने वालों से कर रहे हैं वसूली

मुजफ्फरनगर। बाजार में छाई मंदी के दौर से पीडित दुकानदार अवैध वसूली को लेकर भी परेशान हैं। शिवचौक के निकट ठिये लगाने वाले दुकानदारों से पुलिस, पालिकाकर्मी व भाजपा नेता अवैध वसूली कर रहे हैं। गुस्साये दुकानदारों का कहना है कि उन्होंने भाजपा को वोट इसलिए नहीं दी थी कि उन्हें इस तरह परेशान किया जायेगा। हिन्दुओं के सबसे बडे त्यौहार पर ठिया लगाने वाले दुकानदारों से पालिकाकर्मी भी अतिक्रमण के नाम पर तीन सौ रूपये वसूली रहे हैं, जबकि रसीद दो सौ रूपये की दी जा रहे हैं। पीडित दुकानदारों ने सांसद डा. संजीव बालियान को मौके पर बुलाकर जमकर हंगामा किया। देर रात्रि तक चले हंगामे के बाद डा. संजीव बालियान ने चेतावनी दी कि अवैध वसूली करने वालों के खिलाफ कडी कार्यवाही की जायेगी।
नोटबंदी व जीएसटी के बाद मंदी की मार झेल रहे दुकानदारों पर अब एक अलग तरह की मार पड रही है। दीपावली जैसे बडे त्यौहार पर ठिये लगाकर परिवार की रोजी-रोटी का जुगाड करने वाले दुकानदारों से पुलिस व पालिकाकर्मियों के साथ ही कुछ छुटभैया भाजपा नेता भी वसूली कर रहे हैं। इसी बात को लेकर आज देर रात्रि में शिव चौक पर जमकर हंगामा हुआ और परेशान दुकानदारों ने सांसद डा. संजीव बालियान को मौके पर बुलाकर अपनी व्यथा बताई।
जानकारी के अनुसार लगभग एक वर्ष पूर्व हुई नोटबंदी के बाद बाजार में छाई मंदी से व्यापारी वर्ग उभर भी नहीं पाया था कि केन्द्र सरकार ने जीएसटी लागू कर दी, जिससे व्यापारियों व छोटे दुकानदारों की भी कमर टूट गयी। धीरे-धीरे व्यापार पटरी पर आना शुरू हुआ। त्यौहारी सीजन में दुकानदार अपने परिवार की रोजी-रोटी का जुगाड करने के लिए जद्दोजहद में जुटे हैं। पटरी-ठेली वाले दुकानदार दीपावली जैसे बडे त्यौहार पर ठिये लगाकर अपनी आजीविका चला रहे हैं, लेकिन उन्हें परेशान करने वालों की भी कमी नहीं है। शिव चौक से भगत सिंह रोड पर दुकानों के सामने सडक पर ठिये लगाने वाले दुकानदारों को दोहरी मार झेलनी पड रही है। जिन दुकानों के बाहर ठिये लगाये जा रहे हैं उक्त दुकानदार उनसे प्रतिदिन के हिसाब से पैसे ले रहे हैं। इसके अलावा नगर पालिकाकर्मी भी तीन-तीन सौ रूपये की वसूली करने में जुटे हैं। साथ ही पुलिस भी अवैध वसूली में जुटी है। इन सबके बीच कुछ छुटभैये भाजपा नेता भी ठिये लगाने वाले दुकानदारों को उत्पीडन करने से बाज नहीं आ रहे हैं।
आज पूरा दिन कभी दुकानदार, कभी नगर पालिकाकर्मी, कभी पुलिस तो कभी छुटभैया नेता ठिया लगाने वाले दुकानदारों से वसूली में जुटे रहे। इस सब से आजीज आकर देर रात्रि में ठिये लगाने वाले दुकानदारों ने शोषण के खिलाफ हंगामा खडा कर दिया। दुकानदारों ने सांसद व पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा. संजीव बालियान को भी फोन कर बुला लिया। दुकानदारों का आरोप था कि जिन दुकानों के बाहर ठिये लग रहे हैं, वे दुकानदार उनसे अपनी दुकान के बाहर ठिया लगाने के बदले पैसे वसूल रहे हैं। नगरपालिका कर्मचारी भी दिन में तीन-तीन सौ रूपये की वसूली कर ले गये। शाम के समय पुलिस वाले भी वसूली करने आये और अब कुछ छुटभैया भाजपा नेता भी ठिया लगवाने के नाम पर दावत-पानी के लिए पैसे मांग रहे हैं। कुल मिलाकर सभी को एक हजार रूपये प्रतिदिन के हिसाब से देने पड रहे हैं, जिस पर सांसद डा. संजीव बालियान ने कहा कि किसी को भी ठिया लगाने के नाम पर एक भी पैसा नहीं दिया जायेगा, जो भी पैसा मांगता हो, उसका नाम उन्हें बताया दिया जाये, उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जायेगी। भले ही वह दुकानदार हो या कोई भाजपा नेता।
गौरतलब है कि भगत सिंह रोड की सजावट करवाने के नाम पर व्यापारी नेता सुरेन्द्र अग्रवाल व राहुल गोयल ने पुलिस प्रशासन से शिकायत की थी कि भगत सिंह रोड से सभी ठिये हटवाये जायें, ताकि पूरे मार्ग की अच्छी तरह से सजावट की जा सकें, क्योंकि सडक पर लगाये गये ठिये मार्ग पर आवागमन में बाधा उत्पन्न करते हैं। ठिया लगाने वालों दुकानदारों ने यह भी आरोप लगाया कि कुछ चुनिंदा व्यापारी नेता भी अपने मनचाहे लोगों का ठिया लगवाने के लिए उनका उत्पीडन कर रहे हैं।

Share it
Top