टैक्स की कम वसूली पर ईओ हुए नाराज

टैक्स की कम वसूली पर ईओ हुए नाराज

मुजफ्फरनगर। शासन द्वारा तय किये गये राजस्व एवं कर वसूली के लक्ष्य में पिछड़ने पर नगरपालिका मुजफ्फरनगर में हलचल है। पालिका के अधिशासी अधिकारी ने टैक्स विभाग के कर्मचारियों व अधिकारियों पर लापरवाही बरतने के आरोप लगाते हुए कर निर्धरण अधिकारी को सख्त चेतावनी के साथ कर वसूली में तेजी लाने के निर्देश जारी किये हैं। शासन ने नगरीय निकायों में कर करेत्तर राजस्व वसूली का लक्ष्य निर्धरित करते हुए बकायादारों से सख्ती के साथ वसूली के निर्देश दिये। स्थानीय निकाय निदेशक डा. अनिल सिंह ने शासन के निर्देशों के तहत निकायों के अध्शिासी अधिकारीयों को लक्ष्य हासिल करने के प्रति गंभीरता से कार्यवाही को कहा था, लेकिन नगरपालिका में कर करेत्तर राजस्व वसूली के प्रति कोई भी गंभीरता नहीं दिखायी गयी है। शासन के द्वारा वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए तय किये गये लक्ष्य के अनुसार मुजफ्फरनगर पालिका को 1034.11 लाख रुपये का कर एकत्र करना है। वित्तीय वर्ष के छह माह से ज्यादा का समय व्यतीत हो जाने के बाद भी पालिका प्रशासन गंभीर नजर नहीं आया। पिछले दिनों जिलाध्किारी द्वारा की गयी कर करेत्तर की समीक्षा में पालिका की वसूली कमजोर पाये जाने पर ईओ विकास सैन को हड़काया और वसूली में तेजी लाने के निर्देश दिये थे। सूत्रों के अनुसार ईओ ने पालिका के कर निर्धरण अध्किारी एवं कर अध्ीक्षक आरडी पोरवाल को जमकर लताड़ लगायी और उनको चेतावनी पत्रा जारी करते हुए कर करेत्तर राजस्व वसूली में लक्ष्य के अनुरूप कार्य करने पर जोर दिया। ईओ ने बताया कि छह माह बीत जाने पर करीब 65 प्रतिशत कर करेत्तर राजस्व वसूली की जानी चाहिए थी, लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण इससे कापफी पीछे रह गये हैं। ईओ ने टैक्स विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को सख्त चेतावनी दी है कि लक्ष्य हासिल करने में कोई भी त्राुटि हुई तो कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने बकायादारों से वसूली में सख्ती बरतने के निर्देश भी दिये हैं। इसके साथ ही समय से बिल वितरित करने को कहा है ताकि समय से लोग भुगतान जमा करा सके।
शासन द्वारा तय किये गये लक्ष्य के अनुसार जनपद की सभी दस नगरीय निकायों को अक्टूबर तक 50 प्रतिशत राजस्व वसूलना है। स्थानीय निकाय निदेशक डा. अनिल सिंह के द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत नगरपालिका परिषद् मुजफ्रपफरनगर को इस वित्तीय वर्ष में 1034.11 लाख, खतौली पालिका को 201.05 लाख कर करेत्तर राजस्व वसूलना है। इसके अलावा पुरकाजी नगर पंचायत को 36.82 लाख, चरथावल को 26.28 लाख, सिसौली को 19.07 लाख, बुढ़ाना को 104.90 लाख, शाहपुर को 39.45 लाख, जानसठ को 47.03 लाख, मीरापुर को 20.94 लाख और भोकरहेडी नगर पंचायत को 12.03 लाख कर वसूलने का लक्ष्य मिला है।

Share it
Top