खाद्य सुरक्षा व औषधि विभाग ने मारे ताबड़तोड़ छापे...छापे की कार्यवाही से मिलावटखोरों में मचा हड़कंप

मुजफ्फरनगर। त्योहारी सीजन होने के चलते जनपदवासियों के स्वास्थ्य का खयाल रखते हुए जिलाधिकारी के द्वारा खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग को मिटावटखोरों पर लगाम लगाने को निर्देशित किया गया था। जिसके सापेक्ष खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम के द्वारा नगर में तीन स्थानों पर छापामार कार्यवाही की गयी। इस दौरान खाद्य पदार्थों के नमूने भी लिये गये। इस संबंध में टीम के अधिकारियों का कहना था कि नमूनों की जांच रिपोर्ट आने के उपरांत आगे की कार्यवाही इस संबंध में की जाएगी। छापे की कार्यवाही के चलते मिलावटखोरों में पूरे दिन हड़कंप मचा रहा।
जिलाधिकारी के निर्देशानुसार अभिहित अधिकारी के नेतृत्व में खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग की टीम, जिसमें मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी आरके दीक्षित, खाद्य सुरक्षा अधिकारी मोहित कुमार, राकेश कुमार, राजीव कुमार, अनिल कुमार कौशल तथा खाद्य सहायक कृष्ण कुमार व वारियाक्ष दीक्षित के साथ चौकी इन्चार्ज कच्ची सड़क थाना सिविल लाईन, मु.नगर की उपस्थिति में महमूद नगर स्थित असरपफ पुत्रा अली बख्स की बतीशा की निर्माण इकाई (रूपी नकली पैकिंग की फैक्ट्री) पर छापा डाला गया। मौके पर खाद्य कारोबारकर्ता शमशेर उर्फ शेरा पुत्र पीरू मुबारकवाला, बिजनौर की उपस्थिति में बतीशा, बेसन, पिस्ता (रंगा) का नमूना नियमानुसार संग्रहित किया गया तथा मौके पर 100 किलोग्राम बतीशा बनाने हेतु तैयार बेसन नष्ट कराया गया तथा मौके पर गन्दगी को देखते हुए निर्माण इकाई बन्द करने का नोटिस दिया गया। यहां से तैयार बतीशा, बेसन व रंगीन पिस्ता के तीन नमूने लिए गए। फैक्ट्री मालिक बीकानेर की एक कम्पनी के रैपर में नकली सामान को पैक करने का कारोबार कर रहा था। इसके पश्चात थाना नई मण्डी स्थित नन्दी स्वीट्स की वर्कशाप का निरीक्षण टीम द्वारा किया गया। जहां अत्यधिक गन्दगी फैली हुई थी। वर्कशाप मैनेजर राजीव कुमार को मौके पर तत्काल सफाई करने हेतु आदेशित किया गया तथा मिलावट के संदेह के आधार पर बतीशा एवं मीठी सौंफ का नमूना नियमानुसार संग्रहित कर जांच हेतु भेजा गया। इसके पश्चात टीम नई मण्डी स्थित कुमार स्वीटस पर जांच हेतु पहुंची, जहां जितेन्द्र पुत्र रतन लाल, के मिठाई के वर्कशाप में मिलावट के संदेह के आधार पर छेना रसगुल्ला का नमूना नियमानुसार संग्रहित कर जांच हेतु भेजा तथा साफ-सफाई हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। नमूनों के रिपोर्ट आने पर आवश्यक विधिक कार्यवाही की जाएगी तथा अभियान निरन्तर जारी रहेगा।

Share it
Top