किसानों ने चीनी मिल अधिकारियों को बंधक बनाया

किसानों ने चीनी मिल अधिकारियों को बंधक बनाया

बुढ़ाना। भैंसाना स्थित चीनी मिल पर किसानों ने चीनी मिल के अधिकारियों को बंधक बना लिया। शीघ्र भुगतान के आश्वासन पर अधिकारियों को मुक्त किया गया। गन्ने के बकाया भुगतान को लेकर पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं व किसानों का बजाज चीनी मिल भैंसाना के मुख्य द्वार पर शुक्रवार को 30वें दिन भी धरना जारी रहा। धरनास्थल पर पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक ने कहा कि किसान शांतिपूर्वक धरने पर बैठकर अपने गन्ने के बकाया भुगतान की मांग कर रहे हैं, पर चीनी मिल अधिकारी उनकी बात नहीं सुन रहे। किसानों ने प्रोडक्ट जीएम एससी गुप्ता व विकास मलिक आदि अधिकारियों को धरनास्थल पर बुलवाकर उन्हें अपने बीच बैठा लिया। किसानों ने अधिकारियों को बंधक बनाते हुए कहा कि प्रशासन ने चीनी मिल पर बैठे किसानों के बीच आना भी मुनासिब नहीं समझा है। उन्होंने गन्ना विभाग कार्यालय बंद करवाकर काम काज भी ठप कर दिया। उन्होंने कहा कि किसान को अपने गन्ने का भुगतान चाहिए। चीनी मिल के अधिकारी चीनी की बिक्री का पूर्ण भुगतान नहीं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब तक किसानों की भुगतान की समस्या का पूर्ण समाधान नहीं होगा, वहीं चीनी मिल के कार्यालय का कामकाज ठप रखेंगे तथा उनका शांतिपूर्वक धरना व अनशन जारी रहेगा। किसान अपने बकाया का पूर्ण भुगतान लेकर ही अपने घर जाएगा। धरनास्थल पर विनोद मलिक, विकास त्यागी, अनिल दत्त शर्मा, डा. जावेद, गुलाम मौहम्मद, हाजी जमशेद, मामीन, सोमबीर ने विचार व्यक्त किये।

Share it
Top