मुजफ्फरनगर: युवाओं को बेहतर प्रशिक्षण से बनाया जाएगा दक्षः भारतेन्दु

मुजफ्फरनगर/भोपा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बुधवार को 12 बजकर 10 मिनट पर पूरे देश में एक साथ 11 नानाजी देशमुख आरसेटी का शुभारम्भ किया। इनमें जनपद मुजफ्फरनगर की मोरना ब्लॉक की आरसेटी भी सम्मिलित है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इलेक्टॉनिक वीडियो कान्फ्रेंस सिस्टम के माध्यम से आरसेटी का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर मोरना ब्लॉक स्थित आरसेटी बिल्डिंग में आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित सांसद कुंवर भारतेन्दु ने कहा कि आरसेटी के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र के युवक-युवतियों को बेहतर प्रशिक्षण के माध्यम से विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षित कर उन्हें दक्ष बनाया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षित नवयुवक अपना प्रशिक्षण के पश्चात स्वरोजगार करके तथा दूसरे बेरोजगारों को भी रोजगार उपलब्ध कराकर उन्हें विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षित होकर युवा नयी टैक्नोलॉजी के साथ कार्य करेंगे और अपनी आर्थिक स्थिति सुदृढ़ करने के साथ ही अन्य लोगों को भी विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का काम करेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण अर्थवयवस्था के केन्द्र बिन्दु कृषि, पशुपालन, मत्स्य पालन एवं हथकरघा आदि हैं। उन्होंने कहा कि स्वरोजगार के लिए ऋण उपलब्ध कराने का कार्य बैंक द्वारा बखूबी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि किसान लोग भी अपनी समृद्धि के लिए कृषि के साथ-साथ पशुपालन करके लाभ कमाये। उन्होंने कहा कि सरकार 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने के लिए प्रयासरत है। उन्होंने कहा कि किसान उन्नत किस्म के बीज बोकर एवं वैज्ञानिक विधि से खेती करके लागत कम कर अपनी आय बढ़ा सकेगे।
इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती आंचल तोमर ने कहा कि प्रधानमंत्री का सपना देश से गरीबी दूर करने का है। उन्होंने स्वच्छता के क्षेत्र में कार्य करने का आह्वान किया।
इसके पूर्व प्रभारी जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने कहा कि यह संस्थान ग्रामीण युवक-युवतियों के कौशल विकास के क्षेत्रा में उपयोगी एवं सार्थक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि स्वयं सहायता समूह, बेरोजगार युवक यहां पर रहकर एवं प्रशिक्षण प्राप्त करके दक्षता हासिल करेंगे। उन्होंने कहा कि संस्था का कार्य मात्रा स्किल डवलेपमैंट ही नही बल्कि उन्हें रोजगार मुहैया कराने की दिशा में भी कार्य करेगी। उन्होने कहा कि विभिन्न कम्पनियों को आमंत्रित कर युवकों का प्लेसमेंट कराया जायेगा।
उन्होंने कहा कि विभिन्न महिला सहायता समूह भी संस्था के माध्यम से प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते है और लघु स्केल पर अपना कारोबार कर सकती है। उन्होंने कहा कि आरसेटी के माध्यम से ग्रामीण विकास को पंख लगाने का सपना पूर्ण होगा। प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि वर्ष 2022 तक नयी तकनीक एवं वैज्ञानिक पद्धति से अधिक पैदावार लेकर कृषक अपने आय दोगुनी कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में हम केवल कृषि पर आधारित न रहे, बल्कि अपना कौशल विकसित करे और देश के सर्वांगीण विकास में अपना योगदान दें। प्रभारी जिलाधिकारी ने कहा कि नाना देशमुख ने हर हाथ को काम, हर खेत को पानी का नारा दिया और वे सदैव युवाओं के आदर्श बने रहे। उन्होंने कहा कि अध्यापक, चिकित्सक एवं सरकारी अधिकारी-कर्मचारी गांव में रहते हैं, तो गांव में बदलाव आयेगा। उन्होंने आह्वान किया कि ग्रामीणों के जीवन में परिवर्तन लाने की दिशा में आगे बढ़े। उन्होंने लोकतंत्र की सफलता के लिए जनसहभागिता को आवश्यक बताया।
कार्यक्रम में पीएनबी के मण्डल प्रमुख आरएस राठौर ने पंजाब नेशनल बैक की और से कार्यक्रम में उपस्थित हुए जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों को पुष्प गुच्छ भेट कर एवं पगड़ी पहनाकर स्वागत किया। मण्डल प्रमुख ने कहा कि पंजाब नेशनल बैंक समाजिक कार्यों एवं समाज की भलाई में हमेशा बढ़चढ़ कर हिस्सेदारी निभाता रहा है। मोरना ब्लॉक परिसर में आरसेटी के नवनिर्मित भवन का उद्घाटन पंजाब नैशनल बैंक के अंचल प्रबंधक मेरठ विवेक झा ने किया। इस अवसर पर सांसद, जिला पंचायत अध्यक्षा, प्रभारी जिलाधिकारी, विधायक खतौली, एलडीएम मुख्य प्रबन्धक एनसी जैन, आरसेटी के निदेशक विनोद मोहन आदि ने आरसेटी परिसर में वृक्षारोपण किया और वृक्षों की महत्ता पर प्रकाश डाला। अन्त में एलडीएम शिशिर जैन द्वारा सभी आगंतुकों का आभार व्यक्त किया गया।

Share it
Top