मुजफ्फरनगर: पुलिस सुरक्षा के बीच चला सरकारी स्कूल...खाईखेडा में भोजनमाता को लेकर चल रहा विवाद

मुजफ्फरनगर: पुलिस सुरक्षा के बीच चला सरकारी स्कूल...खाईखेडा में भोजनमाता को लेकर चल रहा विवाद

भोपा। मोरना क्षेत्र के ग्राम खाईखेडा में भोजनमाता को लेकर चल रहे विवाद में गांव के दबंगों द्वारा स्कूल की अध्यापिका व भोजन माता के साथ बदसलूकी के चलते थाना ककरौली पर पीडितों ने तहरीर देकर अपनी सुरक्षा की गुहार लगायी थी, जिसके परिणामस्वरूप पुलिस ने विद्यालय को सुरक्षा प्रदान करते हुए दबंगों को दौडा लिया तथा भोजनमाता से खाना बनवाकर बच्चों को खिलवाया।
खाईखेडा के सरकारी स्कूल में कविता नामक भोजनमाता को हटाने को लेकर गांव के कुछ दबंगों ने मर्यादा व कानून की सीमाओं को लांघ दिया है। दबंगों द्वारा विद्यालय में दबंगता का तांडव पिछले कई माह से किया जा रहा है, जिसके चलते कुछ अभिभावकों ने अपने बच्चों को स्कूल भेजना भी बन्द कर दिया है। सोमवार को दबंगों ने फिर अपनी दबंगता का परिचय देते हुए स्कूल की कार्यकारी इंचार्ज मीनाक्षी व भोजनमाता कविता के साथ बदसलूकी की पीडितों की प्रार्थना पर थाना ककरौली पुलिस ने विद्यालय में बार-बार गश्त की तथा विद्यालय में प्रवेश कर रहे वेदराम, सुशील, जगत, कृष्ण, युनुस को दौडा लिया। वहीं प्रकरण के चलते अध्यापिका मीनाक्षी ने स्कूल में आना खतरे से खाली नहीं समझा। खौफजदा अध्यापिका की अनुपस्थिति के चलते अन्य स्कूलों से अध्यापक की व्यवस्था की गयी, जिसमें एनपीआरसी संदीप कुमार व शिक्षामित्र नाहरसिंह द्वारा अध्यापन का कार्य कराया गया तथा पुलिस सुरक्षा के बीच भोजनमाता कविता ने रसोई में खाना पकाकर बच्चों को खिलाया। विद्यालय में चल रहे प्रकरण को लेकर ग्रामीणों ने बच्चों के मानसिक स्तर पर दुष्प्रभाव पडने की आशंका व्यक्त की है।

Share it
Top