मुजफ्फरनगर: सिंचाई विभाग की कार्यवाही से खनन माफियाओं में हडकम्प

मुजफ्फरनगर: सिंचाई विभाग की कार्यवाही से खनन माफियाओं में हडकम्प

भोपा। सिंचाई विभाग के कर्मचारियों ने रेत खनन करने वालों पर कार्यवाही करते हुए 14 व्यक्तियों के विरूद्ध थाना ककरौली पर मुकदमा दर्ज कराया है। सिंचाई विभाग की कार्यवाही से रेत खनन करने वालों में हडकम्प मच गया है।
थाना ककरौली क्षेत्र की गंगनहर अनूपशहर शाखा पटरी पर गश्त करने वाली सिंचाई विभाग की टीम ने सींचपाल धर्मवीर सिंह, अमित कुमार मेट ने बताया कि वह ग्राम ढांसरी क्षेत्र में नहर पटरी पर गश्त कर रहे थे, जहां उन्होंने बिट्टू पुत्र प्रेमसिंह, अजीज पुत्र सत्तार, जीशान पुत्र मुनफैत, शाह आलम पुत्र ताहिर निवासीगण ढांसरी, शैदा पुत्र नूरू, अशोक पुत्र तिलकराम, सुभाष पुत्र बसंता, भूरा पुत्र रफी निवासीगण ग्राम कम्हेडा, कालू पुत्र मंजूरा, राशिद पुत्र गोधू, नौशाद पुत्र अली मौहम्मद, भोंदा पुत्र अली हसन, मेहरबान पुत्र शैदा, साटर पुत्र सरफराज निवासीगण ग्राम खेडी फिरोजाबाद को बीच नहर से भैंसा बोगी लेकर अवैध रेत का खनन करते पाया। कर्मचारियों को देखते हुए उक्त भाग खडे हुए। सींचपाल ने आरोपियों के विरूद्ध थाना ककरौली पुलिस को तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया है। सिंचाई विभाग की कार्यवाही से खनन करने वालों में हडकम्प मच गया है। प्रतिवर्ष की भांति अक्टूबर माह में गंगनहर की जल आपूर्ति बन्द की हुई है, जिस कारण बडे स्तर गंगनहर में खनन जारी है। क्षेत्रवासियों ने भाजपा नेताओं से खनन से रोक हटा लेने की गुहार लगायी है।

Share it
Top