सपाईयों में हुई जमकर जूतमपैजार...कार्यालय पर जिला महासचिव व मीरापुर विधानसभा अध्यक्ष के बीच हुई मारपीट

सपाईयों में हुई जमकर जूतमपैजार...कार्यालय पर जिला महासचिव व मीरापुर विधानसभा अध्यक्ष के बीच हुई मारपीट

मुजफ्फरनगर। समाजवादी पार्टी में सत्ता जाने के बावजूद भी एका नहीं हो पा रहा है। नेताओं के बीच सत्ता जाने के बाद भी झगडे व गुटबाजी रूकने का नाम नहीं ले रहे है। आज भी सपा कार्यालय पर मासिक बैठक के बाद सदस्यता रसीद के पैसों को लेकर जिला महासचिव जिया चौधरी व मीरापुर विधानसभा अध्यक्ष शाहिद रूडकली के बीच गाली-गलौच के बाद जबरदस्त मारपीट शुरू हो गयी। मामला इतना बढा कि मारपीट में शाहिद रूडकली के सिर में चोट लगने पर चेहरा खून से तर-बतर हो गया। बताया जा रहा है कि समाजवादी पार्टी के महावीर चौक स्थित कार्यालय पर आज सुबह मासिक बैठक आयोजित की गयी थी। मासिक बैठक में समाजवादी पार्टी के सभी वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। बैठक शान्ति से सम्पन्न हो गई, लेकिन बैठक के तुरन्त बाद सपा के जिला महासचिव जिया चौधरी व मीरापुर विधानसभा अध्यक्ष शाहिद रूडकली के बीच सदस्यता पैसों को लेकर कहासुनी हो गयी। मामले की कहासुनी गाली-गलौच में बदल गयी और दोनों में जबरदस्त मारपीट शुरू हा गई। मामला इतना बढा कि मारपीट में शाहिद रूडकली के सिर व मुंह पर भी काफी चोट लगी। चोट लगने पर शाहिद रूडकली का चेहरा खून से तर-बतर हो गया। झगडे का खूनी रूप लेने पर वहां मौजूद सपा नेता कारी अब्दुल गफ्फार, विनय पाल, प्रवीण मलिक ने बामुश्किल बीच-बचाव कराया। सपा नेता शाहिद रूडकली घायल अवस्था में ही कार्यालय पर ही पुलिस बुलाकर जिया चौधरी की गिरफ्तारी कराने पर अड गये, लेकिन सपा नेताओं ने पार्टी की बदनामी का वास्ता देकर मामला शान्त कराया। जिया चौधरी ने भी शाहिद रूडकली से माफी मांग ली, जिस कारण मामला शान्त गया है, लेकिन सपा कार्यालय पर लगातार झगडों से कब कैसी घटना हो जाये, कुछ नेता इसको लेकर आशंकित है। पार्टी के कार्यकर्ताओं का कहना है कि जिलाध्यक्ष का नेतृत्व काफी कमजोर होने व सपा महासचिव की कार्यशैली व व्यवहार खराब होने की वजह से झगडे हो रहे है। आज के झगडे को लेकर चर्चाओं का दौर चलता रहा। बताया जा रहा है कि जिलाध्यक्ष की कमजोरी के कारण ही गौरव स्वरूप गुट के जिया चौधरी कार्यालय पर काबिज है, जिस कारण झगडे बढ रहे हैं।

Share it
Top