बेलडा में पथराव से तनाव व्याप्त

बेलडा में पथराव से तनाव व्याप्त

भोपा। बीती रात्रि ग्राम बेलडा में शरारती तत्वों द्वारा पथराव करने से दो सम्प्रदायों में तनाव व्याप्त हो गया। दोनों सम्प्रदाय ने एक-दूसरे के मकानों पर पत्थर फेंकने के आरोप लगाये हैं। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी कर कार्यवाही का आश्वासन दिया है। एक समुदाय की आरे से थाने पर तहरीर देकर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही की मांग की गयी है। थाना भोपा क्षेत्र का ग्राम बेलडा 18 सितम्बर से साम्प्रदायिक तनाव से ग्रस्त है। विगत माह दलित नाबालिग युवती के साथ घटना के बाद गांव में संवेदनशील बढ गयी है। विगत सप्ताह 25 सितम्बर को इमरान का शव संदिग्ध स्थिति में जंगल में मिला था। परिजनों ने इमरान की हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस को अज्ञात में तहरीर दी थी। घटनाओं को लेकर गांव में अफवाहों का दौर चल रहा है। सोमवार देर रात्रि गांव में पत्थरबाजी की घटना से हडकम्प मच गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घटना की जानकारी प्राप्त कर कार्यवाही का आश्वासन दिया। मामले को लेकर मंगलवार को ग्रामीण अमित पुत्र धर्मपाल, संजय कुमार, प्रमेन्द्र कुमार, चन्द्रशेखर, कृष्णपाल, सुधीर आदि दर्जनों ग्रामीणों ने थाना भोपा पुलिस को तहरीर देकर बताया कि एक अक्टूबर की रात अचानक दलित बस्ती में पथराव किया। पुलिस के आते ही पथराव बन्द हो गया। पुलिस के जाते ही पथराव पुनः आरम्भ हो गया, जिसमें गांव के ही इशाक पुत्र अल्लारक्खा, मोमीन पुत्र इशाक, सरताज पुत्र एहतशाम कट्टे बन्दूक तलवारें लेकर छतों पर लहराने लगे। ग्रामीणों का आरोप है कि शावेज पुत्र सरदार निवासी खालापार मुजफ्फरनगर इन घटनाओं को अंजाम देकर साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाडना चाहता है। युवक ने मोबाईल फोन पर बात करते हुए मौहल्ले के कुन्ती, सीताराम, संदीप, कृष्णपाल, अजय कुमार की छतों पर पथराव किया। थाना भोपा प्रभारी विजय सिंह ने बताया कि गांव में कुछ शरारती तत्व गांव की पिफजा खराब करने के प्रयास मंे हैं, पुलिस खूपिफया तंत्रा के द्वारा शरारती तत्वों को चिन्हित कर आरोपियों के खिलाफ कडी कार्यवाही की जाएगी। घटना की जांच कर आरोपियों के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

Share it
Top