गांधीजी की शिक्षा आज भी प्रासांगिकः अंकित अग्रवाल

गांधीजी की शिक्षा आज भी प्रासांगिकः अंकित अग्रवाल

मुजफ्फरनगर। महात्मा गांधी सत्य व अहिंसा के पुजारी थे। उनके द्वारा दी गई शिक्षा आज भी दुनिया मे प्रांसंगिक है। गांधी जी के अहिंसावादी विचारों व आदर्शो को अपने जीवन में उतारें। यह उद्गार जिलाधिकारी अंकित कुमार अग्रवाल ने आज प्रातः 8 बजे कलैक्ट्रेट में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं लालबहादुर शास्त्राी जी के चित्रा पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित करने के पश्चात व्यक्त किये। जिलाधिकारी ने कहा कि एैसे महापुरूष विश्व मे बहुत कम जन्म लेते है, जो अहंकार को त्याग कर जनहित में सदैव कार्य करते हैं। उनके 'सादा जीवन उच्च विचार' ने ही दोनों महानुभूतियों को महान बनाया है, जिनकी कथनी व करनी में कोई अन्तर नहीं था। उन्होंने कहा कि महात्मा गंाधी ने अनेकों कष्ट सहे, लेकिन ब्रिटिश हुकूमत को उनका लोहा मानना पडा, गांधी जी सत्य व अहिंसा के मार्ग पर अडिग रहे और इसी राह पर चलते हुए उन्होंने विशाल राष्ट्र को अंग्रेजों से आजाद कराया। जिलाधिकारी ने कहा कि आज आवश्यकता है कि सत्य व अहिंसा एवं त्याग पर चलकर मानव की सेवा करें और गांधी जी के सिद्वांत एवं आदर्शों को मूर्त रूप देते हुए विकास पथ पर चलें। उन्होंने कहा कि लालबहादुर शास्त्राी जी ने कर्तव्य पालन व कर्मठता का पाठ हमें सिखाया है। जिलाधिकारी ने सम्बोधित करते हुए कहा कि दोनों महानुभूतियों के जन्मदिवस पर हम सबको ईमानदारी से अपने कर्तव्य का पालन करने का संकल्प लेना चाहिए तथा सौंपे गये कार्यों के प्रति सक्रिय रह कर अपने पटलों का कार्य निर्धारित समय में निस्तारण करना चाहिये ताकि निस्तारित कार्यों के लिए प्रशंसा मिले तथा अन्य जिलों के लिए उदाहरण पेश किया जा सके। उन्होंने कहा कि प्रशंसा प्राप्त करने के लिए सौंपे गये कार्यों को पूरे मनोयोग से करने की जरूरत है। मजबूरी में ही आदमी अपना काम लेकर हमारे पास आता है, उससे मधुर व्यवहार करते हुए समय के भीतर अपने पटल से कार्य सम्पादित करें। उन्होंने कहा कि कोई भी अधिकारी व कर्मचारी अपने पटल पर लम्बित प्रकरण न रहने दे, बल्कि जनता का सेवक बनकर कार्य सम्पादित करें। जिलाधिकारी ने स्टाफ व अधिकारियों को स्वच्छता शपथ दिलाते हुए अक्षरतया पालन करने का आह्वान भी किया। इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी वि/रा सुनील कुमार सिंह, अपर जिलाधिकारी प्रशासन हरीश चन्द्र, नगर मजिस्ट्रेट वैभव मिश्रा, प्रशासनिक अधिकारी पंकज मित्तल ने भी अपने विचार रखते हुए कहा कि गांधी जी के सत्य, त्याग व अहिंसावादी विचारों पर चलकर हम भारत को विकास की ओर ले जा सकेंगे। कार्यक्रम का संचालन प्रशासनिक अधिकारी पंकज मित्तल ने किया।

Share it
Top