पुलिस की गुण्डागर्दी का वीडियो हुआ वायरल....दुकान खाली कराने को लेकर दलित महिला पर किया अत्याचार

पुलिस की गुण्डागर्दी का वीडियो हुआ वायरल....दुकान खाली कराने को लेकर दलित महिला पर किया अत्याचार

भोपा। थाना भोपा पुलिस की गुण्डागर्दी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाने से हडकम्प मच गया है। थाना भोपा पुलिस ने अमानवीय कार्य करते हुए एक दलित महिला की दुकान को कानून को धता बताते हुए खाली कराया है। पीडित महिला ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से कार्यवाही की गुहार लगायी है। थाना व ग्राम भोपा निवासी श्रीमती सुमनलता पत्नी इन्द्रपाल ने बताया कि उसका अपने पति इन्द्रपाल के साथ पारिवारिक विवाद चल रहा है। विवाद के चलते इन्द्रपाल सम्पत्ति को किसी अन्य को ट्रांसफर करना चाहता है। इन्द्रपाल अपने परिवार को छोड अपने भतीजे की पत्नी के साथ रहता है। सुमनलता के पुत्र अंकित ने गांव में ही इलैक्ट्रिकल्स की दुकान कर रखी है, जिसके सम्बंध में न्यायालय सिविल जज सीनियर डिवीजन में वाद सं0 412/2017 वाद दायर किया हुआ है, जिस पर न्यायालय द्वारा कमीशन नियुक्त कर मौके की रिपोर्ट न्यायालय में प्रस्तुत की गयी है। सुमनलता के अनुसार 12 सितम्बर की दोपहर जब वह अपने पुत्र के साथ दुकान पर बैठे हुए थे। तभी थाना भोपा के इंस्पेक्टर व उपनिरीक्षक सुनील कुमार अन्य पुलिसकर्मियों सहित पुलिस जीप से उतरे तथा विपक्षी इन्द्रपाल, विजय कुमार, सतीश, सोनू, संजय, मोनू व अन्य कई अज्ञात दुकान में घुस आये तथा पुलिस रौब दिखाते हुए दुकान को खाली करने की बात कही। विरोध करने पर पुत्रा प्रियंक व अंकित को पुलिस थाने ले गई। इस दौरान इन्द्रपाल पक्ष के लोग पुलिस का साथ लेकर दुकान को लूटते रहे, जहां प्रियंक व अंकित को थाने में बन्द कर दिया गया। वहीं भोपा इंस्पेक्टर व उपनिरीक्षक इन्द्रपाल को सामान लुटवाते रहे। मौके की बनायी मोबाईल वीडियो को प्रसारित करने पर पुलिस ने सुमनलता के परिवार को अंजाम भुगत लेने की धमकी दी है। पीडित महिला ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तहरीर देकर भोपा पुलिस के विरूद्ध कार्यवाही की गुहार लगायी है। थाना प्रभारी विजय सिंह ने बताया कि पति पत्नी का विवाद चल रहा है। शान्ति व्यवस्था बनाने को पुलिस वहां गयी होगी। वहीं थाना भोपा पुलिस की वायरल वीडियो को लेकर हडकम्प मच गया है।

Share it
Top