एनिमेशन फिल्म 'कोमल' करेगी नौनिहालों को जागरूक

एनिमेशन फिल्म कोमल करेगी नौनिहालों को जागरूक

मुजफ्फरनगर। घर व स्कूल में लगातार बढ़ रही बाल यौन शोषण की घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने अब बच्चों में जागरूकता लाने का नया तरीका अपनाया है। योजना के तहत विद्यालयों में बच्चों को आध्े घंटे की एनिमेशन पिफल्म 'कोमल' दिखाई जाएगी। इसमें बच्चों को यौन शोषण के प्रतिकार और अच्छे-बुरे की परख समझायी जाएगी। ताकि अज्ञानता वश बच्चे यौन शोषण का शिकार न हो सके। भारत सरकार के महिला एवं बाल विकास मंत्रालय की एक रिपोर्ट के अनुसार बाल यौन शोषण में सबसे ज्यादा ऐसे लोग ही लिप्त पाए जा रहे हैं, जो बच्चे के पारिवारिक करीबी या पहचान वाले होते हैं। जो बच्चों को तमाम लालच देकर उनका यौन शोषण करते हैं। वहीं अज्ञानता वश बच्चे उनकी बुरी नीयत को समझ ही नहीं पाते हैं। इसलिए मंत्रालय ने कोमल जरिये बच्चों को जागरूक करने की योजना बनाई है। बाल यौन शोषण के मामलों में हुए सर्वे में यह तथ्य सामने आया है कि ऐसी हरकतें करने वाले प्रायः बच्चों के करीबी या पहचान वाले ही होते हैं। बच्चों को जागरूक बनाने के लिए मंत्रालय ने यह एनिमेशन पिफल्म तैयार करवाई है, इससे बच्चे आसानी से सजग हो सकें और किसी भी गंदी हरकत का प्रतिकार कर सकें। यह पिफल्म सभी विद्यालयों को उपलब्ध कराई जा रही है।

Share it
Top