मुजफ्फरनगर: स्वास्थ्य सेवाओं व प्रदूषण को लेकर रालोद का प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर: स्वास्थ्य सेवाओं व प्रदूषण को लेकर रालोद का प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। राष्ट्रीय लोकदल ने जनपद में दूषित पानी से जानलेवा बीमारियों के कारण हो रही मौतों पर रोष प्रकट करते हुए शुक्रवार को कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना दिया। रालोद जिलाध्यक्ष अजीत राठी के नेतृत्व में कार्यकर्ता एकत्र होकर कलेक्ट्रेट स्थित जिलाधिकारी कार्यालय पहुंचे। जहां पर जनपद में विभिन्न ग्रामों में जानलेवा बीमारियों से लोगों की मौत हो जाने के बाद भी गंभीर कार्यवाही नहीं होने के कारण रोष जताते हुए प्रदर्शन किया। जिलाधिकारी कार्यालय के बरामदे में ही रालोद कार्यकर्ता धरने पर बैठ गये। प्रदर्शन के उपरांत रालोद नेताओं ने जिलाधिकारी के नाम एक ज्ञापन एडीएम-एफ को दिया। इसमें कहा कि जनपद में स्वास्थ्य सेवाओं एवं प्रदूषण जनित समस्याओं को लेकर प्रशासन उदासीन बना हुआ है। खतौली तहसील के गांव जीवना, पुरकाजी के फलौदा सहित कई अन्य ग्राम पंचायत नदियों के दूषित पानी के प्रभाव में हैं। यहां जानलेवा बीमारियों से कई लोग अपनी जान गवां चुके हैं। सैंकड़ों लोग बीमारियों से ग्रसित हैं। रालोद ने जिला प्रशासन से गांव जीवना, मोरकुक्का, काजीखेडा, तिसंग, फलौदा, लछेडा, डबल आदि में पानी की जांच कराने, काली नदी में जमा सिल्ट को तुरंत साफ कराने, गांवों में पेयजल के लिए टंकी का निर्माण कराने, शेरपुर खादर, पुरकाजी, सोलानी नदी में ऊपर से आये पानी से फसल के नुकसान का पीड़ित किसानों को मुआवजा दिलाने, कोल्हू चलाने के लिए प्रदूषण विभाग से एनओसी की अनिवार्यता समाप्त कराने, कोल्हू को गांव से एक किलोमीटर दूरी पर रखने का काला कानून खत्म करने की मांग की है। प्रदर्शन करने वालों में मुख्य रूप से अजीत राठी, अभिषेक चौधरी, मुश्ताक चौधरी, योगराज सिंह, रमा नागर, धर्मवीर बालियान, ब्रह्म सिंह बालियान, कंवरपाल फौजी, सुदेश पाल, अश्विनी, आमिर अली, विकास कुमार, विदित मलिक, इरशाद, सतवीर सिंह, मनोज कश्यप, संजय शर्मा, हर्ष राठी, विकास कादियान, आशु, अनुज, शिवम, विनोद, मांटी कादियान, अशोक बालियान, ओमकार बालियान, सुमित सहरावत, मोहित मलिक आदि कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Share it
Top