दोहरे हत्याकाण्ड का अभियुक्त सजा के डर से हुआ फरार

दोहरे हत्याकाण्ड का अभियुक्त सजा के डर से हुआ फरार

मुजफ्फरनगर। दोहरे हत्याकाण्ड का एक अभियुक्त आज सजा के डर से फरार हो गया। अदालत के निर्णय के समय फरार हुआ अभियुक्त छपार के रामपुर तिराहे पर ट्रक में बरामद हुए दो शवों के मामले में दोषी था। अदालत के कडे रूख से अभियुक्तों में भय व्याप्त है और दो दिन में यह फरार होने की दूसरी घटना है। जानकारी के अनुसार अपर जिला जज-10 की कोर्ट में एक दोहरे हत्याकाण्ड के मामले में निर्णय सुने जाने से पहले ही एक मात्र आरोपी अबुल हसन फरार हो गया। कोर्ट ने उसके विरूद्ध गैरजमानती वारंट व कुर्की की कार्यवाही के आदेश जारी किये और छपार पुलिस को आदेश दिया कि उसे 6 अक्टूबर तक कोर्ट में पेश करें। बताया जा रहा है कि 17 दिसम्बर 2013 को छपार थानाक्षेत्र के अंतर्गत रामपुर तिराहे के निकट एक ट्रक से दो लोगों के शव बरामद हुए थे। जांच के दौरान इस प्रकरण में दो आरोपी अबुल हसन व आरिफ का नाम प्रकाश में आया था। उस समय आरिफ नाबालिग घोषित हो गया था, जबकि अबुल हसन के विरूद्ध सुनवाई चल रही है। घटनाक्रम के अनुसार एडीजे-10 की कोर्ट में सुनवाई चल रही थी। जब शाम के समय आरोपी के विरूद्ध फैसला सुनाने का वक्त आया और उसे आवाज लगायी गयी, तो आरोपी फरार हो गया। आरोपी के फरार होने से पुलिस में भी हडकम्प मच गया। कोर्ट ने उसकी तलाश करायी, लेकिन वह नहीं मिल सका। इस मामले को कोर्ट ने बेहद गम्भीरता से लिया और उसके विरूद्ध गैरजमानती वारंट व कुर्की की कार्यवाही के आदेश जारी करते हुए छपार पुलिस को निर्देश दिये हैं कि उसे 6 अक्टूबर तक कोर्ट में पेश किया जाये। बताया जा रहा है कि अदालत के निर्णय के डर से ही आरोपी अबुल हसन कोर्ट से पफरार हुआ है। कोर्ट के निर्णय के डर से अभियुक्त के फरार होने की यह दो दिनों में दूसरी घटना है। गत दिवस फास्ट ट्रेक कोर्ट द्वितीय से भी एक आरोपी निर्णय के समय पेश नहीं हुआ और बाद में कार्यवाही के डर से पेश हो गया, जिसे उम्रकैद की सजा सुनाई गई है।

Share it
Top