राष्ट्र एवं समाज के प्रति समर्पित रहे पं. उपाध्यायः डीएम

राष्ट्र एवं समाज के प्रति समर्पित रहे पं. उपाध्यायः डीएम

मुजफ्फरनगर। जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी ने पं. दीनदयाल उपाध्याय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी के तीसरे दिन समापन अवसर पर कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय राष्ट्र एवं समाज के प्रति पूर्ण समर्पित थे और आजीवन उन्होंने दबे कुचले एवं पिछडों के उत्थान के लिए कार्य किया। पं. दीन दयाल जी एक समाज सुधारक लेखक, पत्रकार तथा एकात्मक मानववाद के प्रेरणा स्रोत थे। उन्होंने कहा कि पं. दीन दयाल जी लोकतंत्रा और समाजवाद में समन्वय को सम्भव मानते थे। उन्होंने कहा कि पंडित जी ने राष्ट्र को धर्म, अध्यात्म और सांस्कृतिक का सनातन कुंज बताते हुए राजनीति की नई व्याख्या की। जिलाधिकारी ने कहा कि पं. जी गांधी, तिलक और सुभाष की परम्परा के वाहक थे वे दलगत एवं सत्ता की राजनिति से ऊपर चढकर वास्तव में एक ऐसे राजनैतिक दर्शन को विकसित करना चाहते थे, जो भारत की प्रकृति एवं परम्परा के अनुकूल हो और राष्ट्र के सर्वागींण उन्नति करने में समर्थ हो।
जिलाधिकारी जीएस प्रियदर्शी आज यहां नुमाईश मैदान में सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग मुजफ्फरनगर द्वारा आयोजित तीन दिवसीय जिलास्तरीय पंडित दीन दयाल उपाध्याय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी के तीसरे एवं समापन दिवस के अवसर पर उपस्थित जनसमूह को पं. दीन दयाल जी के विचारों से अवगत करा रहे थे। उन्होंने कहा कि पं. दीन दयाल जी का लक्ष्य समाज को अंतिम पायदान पर बैठे व्यक्ति को विकास से जोडना था। जिलाधिकारी ने कहा कि हम समाज के आर्थिक रूप से पिछडे व्यक्ति को विकास की मुख्य धारा से जोडने के लिए सतत् प्रयत्नशील है और शासन की संचालित सभी योजनाओं को मूर्त रूप देने में जुटे है। जिलाधिकारी ने कहा कि पं. दीनदयाल उपाध्याय जी का सपना था कि समाज के अन्तिम पंक्ति के व्यक्ति को सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिले। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारियों का दायित्व है कि हम केन्द्र सरकार व प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के अन्तिम व्यक्ति तक पहुंचाये।
जिलाधिकारी ने कहा कि अन्त्योदय मेले में राज्य सरकार एवं केन्द्र सरकार के जिला स्तरीय विभागों द्वारा प्रतिभाग किया गया है। उन्होंने कहा कि विभिन्न विभागों द्वारा अपने-अपने स्टाल लगाकर अपने विभाग सम्बन्धी जन कल्याणकारी एवं लाभार्थीपरक योजानाओं की जानकारी जनसामान्य को दी गयी, जिससे आम लोगों को न केवल योजनाओं की जानकारी मिले, अपितु वे जागरूक होकर योजनाओं का लाभ भी प्राप्त कर सकेंगे। मेले में कृषि विभाग, गन्ना विभाग, उद्यान विभाग तथा स्वास्थ्य विभाग एवं श्रम विभाग समाज कल्याण, पशु पालन, डूडा तथा नेडा, कौशल विकास मिशन के अधिकारियों द्वारा उनके विभाग की योजनाओं के सम्बन्ध में जनसामान्य को जानकारी से अवगत कराया गया साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा स्वास्थ्य शिविर लगाकर निशुल्क दवाई वितरण भी कराया गया।
जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी ने पंडित दीन दयाल उपाध्याय अन्त्योदय मेला एवं प्रदर्शनी में राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के अन्तर्गत लाभार्थियों को समाज कल्याण विभाग की और से 30 हजार रूपये प्रत्येक को स्वीकृति पत्र वितरित किये। जिलाधिकारी एवं मुख्य विकास अधिकारी द्वारा वृद्धावस्था पेंशन योजना के अन्तर्गत स्वीकृति पत्र वितरित किये। इसके अतिरिक्त जिलाधिकारी ने तीन दिवसीय अन्त्योदय मेले में उत्कृष्ट एवं गुणवत्तापूर्ण प्रदर्शनी पंडाल लगाये जाने पर श्रम विभाग, सूचना विभाग, पशुपालन विभाग, समाज कल्याण, बेसिक शिक्षा, विद्युत, जिला पंचायत राज, आईटीआई, आईसीडीएस, डूडा, कृषि उद्यान एवं गन्ना विभाग के अधिकारियांे को उत्कृष्ट स्टाल लगाये जाने पर एवं उनके गुणवत्तापूर्ण प्रदर्शन पर प्रमाण पत्रा देकर सम्मानित किया। जिलाधिकारी ने कौशल विकास मिशन में उत्तीर्ण प्रशिक्षुओं को भी प्रमाण पत्रों का वितरण किया। जिलाधिकारी ने पं. दीन दयाल उपाध्याय जी की जन्मशती के अवसर पर आयोजित सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के विजेताओं को भी प्रमाण पत्रों का वितरण किया। इसके अतिरिक्त जैन कन्या इण्टर कॉलेज की छात्राओं द्वारा तथा जैन कन्या इण्टर कॉलेज (सिटी), तथा एसडी गर्ल्स गांधी कालोनी की कन्याओं को तथा प्राथमिक विद्यालय निराना को (बेटी बचाओं) की उत्कृष्ट प्रस्तुति पर प्रमाण पत्र एवं पुरस्कार देकर सम्मानित किया। उन्होंने कहा कि शौचालय को प्रयोग करें और गन्दगी को दूर भगायें। उन्होंने कहा कि गंदगी नहीं होगी, तो बीमारियां कम होगी और हमारी कडी मेहनत का पैसा दवाईयों एवं चिकित्सकों पर बर्बाद नहीं होगा। उन्होंने कहा कि बारह हजार रूपये की धनराशि स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण के अन्तर्गत लाभार्थियों को दी जा रही है। ग्राम वासियों को जागरूक करने और ग्रामों में शौचालयों का लक्ष्य पूर्ण करने के लिए बडी संख्या में चैम्पियन एवं स्वच्छता गृहियों को लगाया गया है। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि जनपद में संचालित विभिन्न विकास योजनाओं की जानकारी और जनसमूह से अपेक्षा की कि वे केन्द्र सरकार एवं प्रदेश सरकार द्वारा जनपद में चलायी जा रही विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ उठाये। अन्त में जिला सूचना अधिकारी द्वारा जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी एवं उपस्थित सभी अधिकारियों व कर्मचारियों का पं. दीन दयाल उपाध्याय जिला स्तरीय अन्त्योदय मेले एवं प्रदर्शनी के आयोजन को सपफल बनाने में दिये गये सहयोग व समय के प्रति आभार व्यक्त किया गया। उन्होंने विभिन्न शिक्षण संस्थाओं के छात्रा/छात्राओं तथा शिक्षक/शिक्षिकाओं के प्रति आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर, सहायक श्रमायुक्त अनिल कुमार सिंह, जिला सूचना अधिकारी कृष्णपाल, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा. हरपाल सिंह, सहित सभी जिलास्तरीय अधिकारी व कर्मचारी मौजूद थे। कार्यक्रम में मंच का सफल संचालन लैफ्रिटनेंट शशांक भारती व विपिन त्यागी ने किया।

Share it
Top