अब आरपार की लड़ाई लड़ेगा किसानः हरेन्द्र मलिक

अब आरपार की लड़ाई लड़ेगा किसानः हरेन्द्र मलिक

बुढ़ाना। बकाया गन्ना भुगतान को लेकर पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक के नेतृत्व में चल रहा किसानों का धरना भैंसाना स्थित बजाज चीनी मिल के गेट पर 12वें दिन भी जारी रहा। सोमवार को धरनास्थल पर पूर्व सांसद हरेन्द्र मलिक ने कहा कि किसान शांतिपूर्वक धरने पर बैठकर अपने गन्ने का पैसा मांग रहे हैं और चीनी मिल भी पैसा देने को तैयार है, लेकिन कुछ स्थानीय नेताओं का दबाव चीनी मिल को पैसा देने से रोक रहा है। उन्होंने आरोप लगाया कि शासन, प्रशासन भी इसमें रुचि नहीं ले रहा है। जब तक किसानों की भुगतान की समस्या का पूर्ण समाधान नहीं होगा, उनका शांतिपूर्वक क्रमिक धरना व अनशन जारी रहेगा। हम यहां राजनीति करने नहीं, किसानों की समस्या के समाधान के लिए आए हैं। उन्होंने कहा कि बकाया भुगतान की समस्या को लेकर मंगलवार को रणनीति बनाई जाएगी। सर्वसम्मति से कचहरी में प्रदर्शन की तिथि भी निश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि उनके धरने पर बैठने का ही दबाव है कि चीनी मिल नें इन बारह दिनों में 59 करोड़ का भुगतान कर दिया है। उन्होने कहा कि इस आंदोलन ने हिंदू-मुस्लिमों के मतभेद खत्म किए है। किसानों को बांटने के प्रयास किये जा रहे है, जो सफल नहीं होंगे। धरनास्थल पर ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह, पूर्व प्रमुख विनोद मलिक, गुलाम मौहम्मद, जमशेद, मोमीन जौला, कृष्णपाल, विरेन्द्र, तारिक कुरैशी, चरण सिंह, विकास त्यागी, सोमपाल, करतार, देवेन्द्र आदि ने भी अपने विचार रखे।

Share it
Top